अमेरिका: कमजोर पड़ा तूफान ‘इडा’, राहत अभियान शुरू

न्यू ओर्लियंस, अमेरिका में लुइसियाना प्रांत के न्यू ओर्लियंस में तबाही मचाने के बाद सोमवार को मिसीसिपी पहुंचते समय तूफान ‘इडा’ कमजोर पड़ गया और भीषण चक्रवात की श्रेणी से निकलकर पुन: उष्णकटिबंधीय तूफान में तब्दील हो गया। इस बीच, बाढ़ में फंसे लोगों के लिए बचाव एवं राहत अभियान की शुरुआत की गई है। बचावकर्ता दल सैकड़ों की संख्या में नावों और हेलिकॉप्टर के जरिए लोगों को बचाने में जुट गए हैं।

वहीं, तूफान के कारण बैटन रॉग इलाके में पेड़ गिरने से चपेट में आए एक व्यक्ति की मौत हो गई। सरकारी प्रवक्ता क्रिस्टीना स्टीफंस ने तूफान के कारण हुई घटनाओं में और लोगों की मौत होने की आशंका जतायी।

गवर्नर कार्यालय की ओर से कहा गया कि तूफान के कारण बुरी तरह क्षतिग्रस्त बिजली लाइन को बहाल करने में समय लग सकता है। एक अधिकारी ने आशंका जतायी कि बिजली आपूर्ति पूरी तरह बहाल होने में एक सप्ताह तक का समय लग सकता है।

इससे पहले, दक्षिण-पूर्वी लुइसियाना में लोग खुद को बाढ़ के पानी से बचाए जाने का इंतजार करते नजर आए।

तूफान ‘इडा’ के चलते समूचे न्यू ओर्लियंस में बिजली गुल हो गई जिससे लोगों को एक बहुत ही दुखद रात का सामना करना पड़ा। सूर्योदय होने से थोड़ी देर पहले मौसम में थोड़ा सुधार हुआ और लोग आसपास हुए नुकसान का जायजा लेते नजर आए। तूफान के चलते जगह-जगह बिजली के खंभे गिर गए, घरों की छतें उड़ गईं और पेड़ टूट गए।

अमेरिका के नेशनल हरिकेन सेंटर ने कहा कि लुइसियाना के दक्षिण-पूर्वी तटीय क्षेत्रों में भारी बारिश और तूफान का व्यापक असर हुआ है, जहां नदियां उफान पर हैं।

यह तूफान ठीक उसी तारीख को टकराया जब 16 साल पहले तूफान ‘कैटरीना’ ने लुइसियाना और मिसीसिपी में तबाही मचाई थी।

सोलह साल पहले 29 अगस्त 2005 को आए तूफान ‘कैटरीना’ ने मिसीसिपी और लुइसियाना के तटीय क्षेत्रों में भारी तबाही मचाई थी। श्रेणी तीन के तूफान ‘कैटरीना’ की वजह से 1,800 लोगों की मौत हुई थी और यह न्यू ओर्लियंस में भयावह बाढ़ का कारण बना था, जिससे उबरने में वर्षों लग गए थे।

‘इडा’ रविवार को श्रेणी चार के भीषण तूफान में तब्दील होकर तट से टकराया था और 16 घंटे बाद यह फिर से उष्णकटिबंधीय चक्रवात में तब्दील हो गया।

इसके चलते न्यू ओर्लिंयंस में बिजली गुल होने के साथ ही विभिन्न सेवाएं प्रभावित हुई हैं। सोशल मीडिया पर लोगों ने राहतकर्मियों से कहा कि वे उन्हें मुसीबत से बचाएं। इसके लिए उन्होंने अपने घरों के पते भी दिए। अधिकारियों ने जवाब में सूर्योदय होने और मौसम ठीक होते ही व्यापक राहत अभियान चलाने का वादा किया और बाद में बचाव अभियान चलाया गया। तूफान सोमवार को मिसीसिपी की तरफ बढ़ गया और कमजोर होकर पुन: उष्कटिबंधीय तूफान में तब्दील हो गया।

लुइसियाना के गवर्नर जॉन बेल एडवर्ड्स ने कहा कि स्थितियां प्रतिकूल होने के चलते राहत अभियान अभी तत्काल काम नहीं कर पाएगा और उनके राज्य को तूफान के प्रभाव से उबरने में कई सप्ताह लगेंगे।

पावर आउटेजेज डॉट यूएस के अनुसार लुइसियाना में लगभग 10 लाख लोग बिजली गुल होने से अंधेरे में रहने को मजबूर हैं और मिसीसिपी में भी लगभग 80,000 लोगों को इसी स्थिति का सामना करना पड़ रहा है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: