इराक के प्रभावशाली शिया मौलवी अल-हाकिम का निधन

बगदाद, इराक के सबसे अनुभवी और प्रभावशाली मुस्लिम शिया मौलवी ग्रैंड अयातुल्ला सैय्यद मोहम्मद सईद अल-हाकिम का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 85 वर्ष के थे। उनके परिवार के सदस्यों ने यह जानकारी दी।

उनके एक रिश्तेदार मोहसिन अल-हाकिम ने बताया कि अल-हाकिम का शुक्रवार को दक्षिणी नजफ शहर के अल हयात अस्पताल में निधन हो गया जहां दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें ले जाया गया था। उनके कार्यालय ने एलान किया कि अचानक बीमार पड़ने से उनका निधन हो गया। उसने बीमारी के बारे में नहीं बताया।

अल-हाकिम को शिया इस्लाम की सर्वोच्च धार्मिक उपाधि अयातुल्ला अल-उज्मा दी गयी थी जिसका मतलब होता है ग्रैंड या सर्वोच्च अयातुल्ला। उन्हें 90 के दशक में इराक के शीर्ष शिया मौलवी अयातुल्ला अली अल-सिस्तानी के शीर्ष प्रतिद्वंद्वी के तौर पर देखा जाता था।

नजफ में जन्मे अल-हाकिम जाने माने और सम्मानित हाकिम परिवार के शिया विद्वान थे। उनके नाना मोहसिन अल-तबातबा अल-हाकिम एक विद्वान और शिया इस्लाम के प्रतिष्ठित विचारकों में से एक थे। उनके पिता मोहम्मद अली अल-हाकिम नजफ के सबसे सम्मानित मौलवियों में से एक थे।

इराक के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री तथा अन्य नेताओं ने अल-हाकिम के निधन पर शोक जताया। बगदाद में अमेरिकी दूतावास ने उनके निधन पर शोक जताते हुए उन्हें ‘‘क्षेत्र में शांति, प्रेम और सौहार्द का प्रतीक’’ बताया।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: