उत्तर कोरिया ने ट्रेन से किया मिसाइल परीक्षण

सियोल, उत्तर कोरिया ने कहा है कि उसने एक ट्रेन से बैलिस्टिक मिसाइल का प्रायोगिक परीक्षण किया है, जिसे अमेरिका के जो बाइडन प्रशासन द्वारा लगाए गए हालिया प्रतिबंधों का जवाब माना जा रहा है।

दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा था कि उसे उत्तर कोरिया द्वारा दो मिसाइलें समुद्र की ओर दागे जाने का पता चला, जो इस महीने में उसका तीसरा मिसाइल परीक्षण है। इसके एक दिन बाद उत्तर कोरिया के सरकारी मीडिया ने यह जानकारी दी।

इस परीक्षण के कुछ समय पहले ही उत्तर कोरिया के विदेश मंत्रालय ने देश के पूर्व के परीक्षणों को लेकर उस पर नए प्रतिबंध लगाने के लिए अमेरिका की आलोचना की थी और यह चेतावनी दी थी कि अगर अमेरिका ‘‘टकराव वाला रवैया’’ बनाए रखता है तो उसके खिलाफ सख्त और कड़े कदम उठाए जाएंगे।

उत्तर कोरिया ने हाल के महीनों में नई मिसाइलों का परीक्षण तेज कर दिया है। कुछ विशेषज्ञों ने कहा है कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग कुछ रियायतों की मांग करने के लिए बातचीत की पेशकश से पहले मिसाइल परीक्षणों के जरिए अपने पड़ोसियों और अमेरिका पर दबाव बनाने की अपनी सोची समझी रणनीति को फिर से अपना रहे हैं।

उत्तर कोरिया की आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने कहा कि शुक्रवार के अभ्यास का उद्देश्य सेना की रेल-जनित मिसाइल रेजिमेंट की क्षमता की जांच करना था। उत्तर कोरिया के ‘रोडोंग सिनमुन’ अखबार ने धुएं में घिरे रेल के डिब्बों से ऊपर उड़ रहीं दो अलग-अलग मिसाइलों की तस्वीरें प्रकाशित कीं।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : AP Photo

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: