उत्तर कोरिया में दवाइयों और जरूरी सामानों की किल्लत

मॉस्को, उत्तर कोरिया में रूस के दूतवास ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर देश दवाइयों और जरूरी वस्तुओं की घोर कमी का सामना कर रहा है।

उत्तर कोरिया ने दावा किया है कि उसके यहां संक्रमण के मामले नहीं हैं और उसने संक्रमण से बचाव के प्रयासों के तहत अपनी सीमाओं को बंद किया हुआ है। राजनयिक और विदेशी नागरिक लगातार देश छोड़ कर जा रहे हैं।

मार्च के महीने में संयुक्त राष्ट्र के दो कर्मचारियों ने कथित तौर पर देश छोड़ दिया था। दोनों विश्व खाद्य कार्यक्रम के लिए काम करते थे।

रूसी दूतावास ने बृहस्पतिवार को फेसबुक में कहा कि 18 मार्च को उत्तर कोरिया छोड़ने वाले 38 विदेशी नागरिकों ने चीन से लगते सीमाई शहर डानडोंग में दो सप्ताह का पृथक-वास पूरा किया, साथ ही कहा कि विदेशियों को ‘‘निकाला’’ जाना जारी रहेगा।

दूतावास ने कहा, ‘‘कोरियाई राजधानी से जाने वालों के बारे में समझा जा सकता है। हर कोई पाबंदियों को नहीं सह सकता, जो अप्रत्याशित तौर पर बहुत कठोर हैं। दवाइयों सहित जरूरी सामानों की घोर कमी है और स्वास्थ्य सुविधाएं मिलने में भी दिक्कतें आ रही हैं।’’

दूतावास ने साथ ही कहा कि प्योंगयांग में 290 से कम विदेशी नागरिक बचें हैं।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: