एनएचएआई ने फास्टैग वॉलेट में न्यूनतम राशि रखने की जरूरत को खत्म किया

नयी दिल्ली, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने बुधवार को कहा कि उसने फास्टैग वॉलेट में न्यूनतम राशि बनाए रखने की जरूरत को खत्म करने का फैसला किया है।

इस कदम का मकसद इलेक्ट्रॉनिक टोल प्लाजा पर निर्बाध आवाजाही सुनिश्चित करना है।

एनएचएआई ने एक बयान में कहा, ‘‘यातायात की निर्बाध आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए और टोल प्लाजा पर लगने वाले समय को कम करने तथा फास्टैग की पहुंच को बढ़ाने के लिए एनएचएआई ने फास्टैग खाते/ वॉलेट में अनिवार्य रूप से न्यूनतम राशि रखने की जरूरत को खत्म करने का फैसला किया है, जिसे यात्री खंड (कार, जीप, वैन) के लिए सुरक्षा जमा के अतिरिक्त देना होता था।’’

बयान में कहा गया कि जारीकर्ता बैंक एकतरफा रूप से सुरक्षा जमा राशि के अलावा फास्टैग खाते/ बटुए की कुछ राशि को रोक रहे है।

इसके चलते कई फास्टैग उपयोगकर्ताओं को अपने फास्टैग खाते/ बटुए में पर्याप्त राशि होने के बावजूद टोल प्लाजा से गुजरने की अनुमति नहीं दी गई। बयान में कहा गया कि इसके चलते टोल प्लाजा पर अवांछित झंझट और देरी हुई।

बयान में कहा गया है कि अगर फास्टैग खाते/ वॉलेट में शून्य से नीचे नीचे नहीं है, तो अब उपयोगकर्ताओं को टोल प्लाजा से गुजरने की अनुमति दी जाएगी।

15 फवरी से टाल नाकों पर भुगतान फस्टैग से कराना अनिवार्य होगा।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: