कवरत्ती में पराचिकित्सा महाविद्यालय स्थापित करेगा लक्षद्वीप प्रशासन

कवरत्ती, लक्षद्वीप में स्वास्थ्य क्षेत्र को नई ऊर्जा देने के लिए प्रशासन ने केंद्रशासित प्रदेश की राजधानी कवरत्ती में एक पराचिकित्सा महाविद्यालय स्थापित करने का फैसला किया है।

प्रशासन ने एक बयान में यहां बुधवार को कहा, ‘‘भारत सरकार के ‘स्किल इंडिया’ अभियान के तहत लक्षद्वीप प्रशासन लक्षद्वीप की राजधानी कवरत्ती में जल्द एक पराचिकित्सा महाविद्यालय खोलेगा।’’

बयान में कहा गया है कि प्रशासक प्रफुल्ल के पटेल के मार्गदर्शन में स्वास्थ्य सेवा विभाग ने पांच पराचिकित्सा पाठ्यक्रम शुरू करने के लिए मान्यता प्राप्त कर ली है, जिनमें मेडिकल प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा, एक्स-रे प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा, ऑपरेशन थिएटर प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा, नेत्ररोग चिकित्सा सहायक का प्रमाणपत्र पाठ्यक्रम और सीटी स्कैन तकनीशियन का प्रमाणपत्र पाठ्यक्रम शामिल हैं।

बयान में कहा गया है कि सभी पाठ्यक्रम पिछले पांच दशक से इस क्षेत्र में काम कर रही संस्था ‘भारत सेवक समाज’ (बीएसएस) से संबद्धता के तहत संचालित किए जाएंगे।

प्रशासन ने कहा, ‘‘इस पराचिकित्सा महाविद्यालय की स्थापना कुशल मानव संसाधनों की जरूरत को पूरा करने और मौजूदा स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के इरादे से की जा रही है। खासकर तब ऐसा किया जा रहा है, जब लक्षद्वीप प्रशासन अपने स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे में व्यापक उन्नयन और सुधार के लिए कदम उठा रहा है।’’

बयान में कहा गया है कि इससे स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: