किसानों के लिए इतना अधिक काम करने वाले मोदी ‘किसान विरोधी’ नहीं हो सकते : हेमा मालिनी

नयी दिल्ली, भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने वर्ष 2021-22 के बजट को ‘आत्मनिर्भर भारत का बजट’ करार देते हुए बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों के लिए इतना अधिक काम कर रहे हैं तो वह ‘किसान विरोधी’ कैसे हो सकते हैं।

लोकसभा में बजट पर चर्चा में भाग लेते हुए हेमा मालिनी ने कहा, ‘‘ यह आत्मनिर्भर भारत का बजट है। यह देश को बदलने वाला बजट है।’’

उन्होंने कहा कहा कि इतिहास में पहली बार स्वाथ्य क्षेत्र में बजट में 137 फीसदी की बढ़ोतरी की गई।

भाजपा सांसद ने कहा कि पिछले साढ़े छह वर्षों में गरीबों के लिए कई योजनाएं लाई गई हैं ताकि सभी समुदाय के लोग सम्मान के साथ जी सके।

उन्होंने कहा कि किसानों के जीवन परिवर्तन लाने के लिए बहुत सारे प्रावधान किये गए हैं। किसानों के फायदे के लिए अनेक कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं।

उन्होंने सवाल किया, ‘‘जो (प्रधानमंत्री) किसानों के लिए लगातार काम करते आ रहे हैं तो फिर वह किसान विरोधी कैसे हो गए?’’

मथुरा से लोकसभा सदस्य ने कहा कि प्रधानमंत्री ने संसद में कहा है कि इन कानूनों को लागू होने दीजिए और कुछ कमी होगी तो इसे सुधारा जाएगा। लेकिन कोई मानने को तैयार नहीं है।

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने कोविड संकट के कारण पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को न सिर्फ पटरी पर लाने का काम किया है, बल्कि यह पटरी पर तेजी से दौड़ रही है। इसका उदाहरण जीएसटी संग्रह में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है।’’

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: