केरल सरकार ने पीएससी रैंक सूची की वैधता बढ़ाने की विपक्ष की मांग खारिज की

तिरूवनंतपुरम, केरल सरकार ने बृहस्पतिवार को विपक्ष की उस मांग को खारिज कर दिया जिसमें लोक सेवा आयोग (पीएससी) रैंक सूची की वैधता छह महीने और बढ़ाने का अनुरोध किया गया था।

विधानसभा में विपक्ष के नेता वी डी सतीशन ने रैंक सूची की वैधता को छह और महीने बढ़ाने की मांग थी। इसके जवाब में मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि सरकार ने इस साल फरवरी में सभी रैंक सूचियों की वैधता चार अगस्त तक बढ़ा दी थी, जिनकी समयसीमा तीन फरवरी से दो अगस्त के बीच समाप्त होने वाली थीं।

विजयन ने विधानसभा में कहा, “इन रैंक सूचियों से सभी रिक्तियों को भरने के लिए कदम उठाए गए हैं और अब उनकी वैधता को बढ़ाने की कोई जरूरत नहीं है।” उन्होंने कहा कि चार अगस्त को रैंक सूचियों के समाप्त होने के मद्देनजर विभाग सचिवों की बैठक बुलाने के लिए मंत्रियों को निर्देश दिया गया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उस समय तक सभी रिक्तियों की जानकारी पीएससी को दी जाए।

उन्होंने कहा कि सचिव यह सुनिश्चित करेंगे कि नियुक्ति प्राधिकारी चार अगस्त को रैंक सूचियों की अवधि की समाप्ति से पहले सभी रिक्तियों की जानकारी पीएससी को दें।

विजयन ने कहा, “रिक्तियों की जानकारी देने में विफल रहने वाले विभाग प्रमुखों और संबंधित नियुक्ति अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।”

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: