कोरोना वायरस से पूरी तरह छुटकारा पाना अब संभव नहीं: न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री ने स्वीकारा

वेलिंगटन, न्यूजीलैंड सरकार ने सोमवार को विश्व के अन्य अधिकतर देशों की तरह स्वीकार किया कि वह कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से पूरी तरह छुटकारा नहीं पा सकती ।

देश की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने ऑकलैंड में लॉकडाउन संबंधी प्रतिबंधों में ढील की घोषणा करते हुए यह बात स्वीकार की। इस महामारी की शुरुआत में न्यूजीलैंड ने कड़ा लॉकडाउन लागू कर और अन्य कड़े कदम उठाकर वायरस को पूरी तरह काबू रखने की कोशिश की थी। अभी तक न्यूजीलैंड की यह रणनीति 50 लाख आबादी वाले देश के लिए कारगर साबित हुई थी। देश में संक्रमण से 27 लोगों की मौत हुई है।

जब अन्य देशों में मृतक संख्या बढ़ रही थी और लोगों का जीवन बाधित था, जब न्यूजीलैंड के लोग अपने कार्यस्थलों, स्कूलों और खेल स्टेडियम में सामान्य रूप से जा रहे थे। लेकिन अगस्त में एक पृथक-वास केंद्र में ऑस्ट्रेलिया से आए एक व्यक्ति के डेल्टा स्वरूप के संपर्क में आने के बाद पूरी तस्वीर बदल गई।

हालांकि देश में इस मामले के सामने आने के बाद बेहद कड़ा प्रतिबंध लागू किया गया था, लेकिन यह संक्रमण को पूरी तरह से रोकने के लिए पर्याप्त नहीं था। देश में सोमवार को संक्रमण के 29 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,300 से अधिक हो गई। कुछ मामले ऑकलैंड के बाहर भी सामने आए हैं।

अर्डर्न ने कहा कि ऑकलैंड में सात सप्ताह के प्रतिबंधों के कारण संक्रमण को काबू में रखने में मदद मिली।

उन्होंने कहा, ‘‘इस संक्रमण के बारे में एक बात स्पष्ट है कि लंबे समय तक कड़े प्रतिबंधों के बाद भी मामले समाप्त नहीं हुए, … लेकिन कोई बात नहीं। पहले संक्रमण पूरी तरह रोकना महत्वपूर्ण था, क्योंकि तब हमारे पास टीके नहीं थे, लेकिन अब हमारे पास टीके हैं और अब हम अपनी रणनीति बदल सकते हैं।’’

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: