कोविड-19 को लेकर लापरवाही बरतने से स्थिति हो सकती है और गंभीर : बाइडन और सीडीसी अधिकारी

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और अमेरिकी स्वास्थ्य विभाग की एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि देश में बहुत से लोगों का यह मानना कि कोरोना वायरस महामारी पर विजय प्राप्त कर ली गई है, लेकिन ऐसा सोचना जल्दबाजी है।

उन्होंने लोगों से मास्क लगाने और अन्य प्रकार की सावधानी बरतने की अपील की और कोविड-19 की “चौथी लहर” के बारे में चेताया।

सीडीसी की प्रमुख डॉ. रोशेल वालेंस्की ने कहा कि अगर लापरवाही बरती गई, तो भविष्य में स्थिति और भयावह हो सकती है।

यह चेतावनी ऐसे समय में दी गई है, जब बाइडन ने घोषणा की है कि अगले पांच सप्ताह में सभी वयस्क कोरोना वायरस का टीका लगवाने के लिए पात्र होंगे।

बाइडन ने कहा, “यह बेहद गंभीर है।” उन्होंने राज्यों के गवर्नरों से मास्क और अन्य प्रतिबंधों को फिर से अनिवार्य करने का आग्रह किया है।

इससे पहले वाइट हाउस की प्रेस वार्ता में रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) की निदेशक डॉ. वालेंस्की कोविड-19 के मरीजों के उपचार के दौरान के अपने अनुभवों को साझा करते हुए भावुक हो गईं।

उन्होंने कहा, “हमें आगे बहुत कुछ करना है और बहुत सी उम्मीदें हैं।” उन्होंने कहा, “लेकिन अभी मुझे डर लग रहा है। मुझे भविष्य में स्थिति और खराब होने की आशंका है।”

उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह के मुकाबले संक्रमण के मामलों में 10 प्रतिशत तक की वृद्धि देखी गई है और प्रतिदिन 60,000 मामले सामने आ रहे हैं।

वालेंस्की ने कहा कि अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों और मृतकों की संख्या भी बढ़ रही है।

उन्होंने चेताया कि अगर तत्काल कार्रवाई नहीं की गई, तो अमेरिका की हालत यूरोपीय देशों जैसी हो जाएगी, जहां संक्रमण के मामले और मृतकों की फिर से संख्या बढ़ रही है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: