गंगा संग्रहालय में नदी की जैव विविधता व कायाकल्प गतिविधियों को प्रदर्शित किया जाएगा

नयी दिल्ली, राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के एक अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि गंगा अवलोकन संग्रहालय में नदी की संस्कृति और जैव विविधता को प्रदर्शित किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को इस संग्रहालय का उद्घाटन किया। अधिकारी ने कहा कि उत्तराखंड के हरिद्वार में चंडी घाट पर स्थित संग्रहालय नदी के कायाकल्प के लिए की गई गतिविधियों को भी प्रदर्शित करेगा।

प्रधानमंत्री ने इसका उद्घाटन करते हुए कहा था कि संग्रहालय तीर्थयात्रियों के लिए विशेष आकर्षण होगा और गंगा से जुड़ी विरासत के प्रति समझ को और बढ़ाएगा। अधिकारी के अनुसार राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन और भारतीय वन्यजीव संस्थान संयुक्त रूप से परियोजना पर काम कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि लोगों की भागीदारी नमामि गंगे परियोजना की आधारशिला रही है। इस पहल से लोगों को नदियों के संरक्षण के महत्व का संदेश देने में मदद मिलेगी।

इस परियोजना में नदी की जैव विविधता पर भी जोर दिया जाएगा। गंगा में कई प्रकार के जलीय जीव पाए जाते हैं। इनमें डॉल्फिन, घड़ियाल और विभिन्न प्रकार की मछलियां और कछुए शामिल हैं।

प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन और भारतीय वन्यजीव संस्थान द्वारा सह-प्रकाशित पुस्तक ‘रोइंग डाउन दि गंगा’ का भी विमोचन किया।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: