गेंदबाजों का छोटे प्रारूप में साहसिक और आत्मविश्वास से भरा होना जरूरी: आदिल राशिद

अबुधाबी, इंग्लैंड के लेग स्पिनर आदिल राशिद को लगता है कि टी10 (10-10 ओवर के मैच) क्रिकेट के आगमन और बल्लेबाजों के अपरंपरागत शॉट्स खेलने के कारण गेंदबाजों को नयी चुनौतियों का सामना करने के लिए साहसिक और आत्मविश्वास से भरा होना चाहिये।

राशिद अबुधाबी टी20 लीग के मौजूदा सत्र में दिल्ली बुल्स का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

राशिद ने कहा, ‘‘ इस उम्र में इस प्रारूप में खेलना चुनौतीपूर्ण है क्योंकि आप सपाट पिच और छोटे मैदान में खेल रहे हैं। बल्लेबाजों के बल्ले की मोटाई बढ़ गयी है ऐसे में आपके खिलाफ बड़े शॉट लगाना आसान है। अगर आपके खिलाफ लगातार दो मैचों में छक्के और चौके लगते हैं तो आपके दिमाग में इसका बुरा असर हो सकता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘  एक स्पिनर के रूप में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आप आत्मविश्वास को बनाए रखे। आपको पता होता है कि आप मैच विजेता हैं, आप तीन, चार या पांच गेंदों में एक विकेट चटकाकर  मैच का रुख पलट सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी  ‘गुगली’, ‘स्लाइड’ जैसी अन्य विविधताओं पर काम करते हुए नेट अभ्यास के दौरान अच्छी तैयारी करनी होती है और मानसिक रूप से मजबूत बने रहना होता है।’’

राशिद पिछले कुछ वर्षों में सीमित ओवर के क्रिकेट में इंग्लैंड के महत्वपूर्ण खिलाड़ी बनकर उभरे है। उन्होंने दुनियाभर में फ्रेंचाइजी आधारित लीग क्रिकेट में खेलकर खुद को साबित किया है।

छोटे प्रारूप में बल्लेबाजों के अपरंपरागत शॉट के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘ इससे गेंदबाजों के लिए चुनौतियां बढ़ी है और यह मुश्किल इसलिए भी बढ़ी है क्योंकि पिचें सपाट हो रही और मैदान छोटे हो रहे है। दर्शकों के लिए हालांकि यह काफी मनोरंजक होता है।’’

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: