जेईई मुख्य परीक्षा के पहले चरण में 95 फीसदी उम्मदीवार शामिल हुए: शिक्षा मंत्री

नयी दिल्ली, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने शुक्रवार को कहा कि देश के इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए आयोजित संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई)-मेंस के पहले चरण में 95 फीसदी उम्मीदवार शामिल हुए।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘यह बताते हुए प्रसन्नता हो रही है कि जेईई के पहले चरण की परीक्षा में 95 फीसदी उपस्थिति दर्ज की गई। मुझे आशा है कि एनटीए भविष्य में भी सफलतापूर्वक परीक्षा का आयोजन करेगा।’

प्रवेश परीक्षा मंगलवार से शुरू हुई थी। ऐसा पहली बार है जब 13 भाषाओं में परीक्षा आयोजित की गई, जिनमें असमी, बंगाली, कन्नड़, मलयालम, मराठी, उड़िया, पंजाबी, तमिल, तेलुगु, उर्दू, हिंदी, अंग्रेजी और गुजराती शामिल है।

छात्रों की सुविधा के मद्देनजर इस साल से परीक्षा वर्ष में चार बार आयोजित की जाएगी। इस परीक्षा के अगले चरण मार्च, अप्रैल और मई में आयोजित किए जाएंगे।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जेईई परीक्षा 311 शहरों के 828 केद्रों पर आयोजित की गई। इनमें विदेश के 10 केंद्र – बहरीन, कोलंबो, दोहा, दुबई, काठमांडू, मस्कट, रियाद, शारजाह, सिंगापुर और कुवैत में बने परीक्षा केंद्र शामिल हैं। उन्होंने बताया कि परीक्षा के दौरान कोविड-19 संबंधी सभी प्रोटोका-ल का पालन किया गया।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: