झारखंड सरकार की खिलाड़ियों को नौकरी देने और प्रखंड मुख्यालयों में स्टेडियम बनाने की योजना

जमशेदपुर, झारखंड के खेल मंत्री हफीजुल अंसारी ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार नक्सल प्रभावित क्षेत्र में खेल को बढ़ावा देने का प्रयास कर रही है, ताकि युवा मुख्यधारा से जुड़ें। उन्होंने कहा कि सरकार नई खेल नीति पर भी कार्य कर रही है जिसके तहत प्रत्येक वर्ष योग्य खिलाड़ियों को नौकरी देने का लक्ष्य है तथा सभी प्रखंड मुख्यालयों में स्टेडियम बनाने की भी योजना है।

खेल मंत्री हफीजुल अंसारी ने आज यहां फुटबॉल शिविर में भाग ले रहे अलग-अलग राज्यों के खिलाड़ियों से मुलाकात के दौरान यह बात कही।

मंत्री ने कहा कि इस शिविर में भाग ले रहे अलग-अलग राज्यों के 30 खिलाड़ियों में दो खिलाड़ी झारखंड से भी हैं। उन्होंने कहा कि हाल में संपन्न ओलंपिक खेलों में झारंखड की बेटियों निक्की प्रधान व सलीमा टेटे ने हॉकी में जबकि दीपिका कुमारी ने तीरंदाजी में देश का प्रतिनिधित्व कर पूरे राज्य को गौरवान्वित किया।

खेल मंत्री ने कहा कि हॉकी के लिए खूंटी, सिमडेगा व रांची में एस्ट्रो टर्फ ट्रैक लगाने का कार्य किया जा रहा है।

एशियाई फुटबॉल चैंपियनशिप की तैयारी को लेकर राष्ट्रीय महिला फुटबॉल टीम के खिलाड़ियों के लिए जमशेदपुर में अगस्त 2021 से फरवरी 2022 तक छह महीने लिए प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया है। टीम की तैयारियों एवं राज्य सरकार की तरफ से खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं का अवलोकन करने के उद्देश्य से मंत्री हफीजुल अंसारी जमशेदपुर पहुंचे थे।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: