टी20 विश्व कप में एक तेज गेंदबाज कम उतार रहा है भारत: एमएसके प्रसाद

मुंबई, चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष एमएसके प्रसाद का मानना है कि भारत ने इस महीने होने वाले टी20 विश्व कप के लिए अपनी टीम में एक तेज गेंदबाज कम शामिल किया है। वह साथ ही मौजूदा इंडियन प्रीमियर लीग में आलराउंडर हार्दिक पंड्या के गेंदबाजी नहीं करने से भी थोड़े चिंतित हैं।

टी20 विश्व कप की शुरुआत यूएई और ओमान में 17 अक्टूबर से होगी जिसमें भारत खिताब का प्रबल दावेदार है।

प्रसाद ने पीटीआई को दिए साक्षात्कार में कहा, ‘‘यह ठीक ठाक टीम है लेकिन मुझे लगता है कि टीम में एक तेज गेंदबाज कम है क्योंकि हम अधिकांश मुकाबले दुबई और अबुधाबी में खेलेंगे इसलिए शायद एक और तेज गेंदबाज अच्छा रहता।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर हम शारजाह में अधिक मैच खेलते जो यह ठीक था लेकिन एक तेज गेंदबाज और होना चाहिए था और हार्दिक के गेंदबाजी नहीं करने से यह अधिक महत्वपूर्ण है, मुझे लगता है कि यह थोड़ी चिंता की बात है।’’

विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम अपने अभियान की शुरुआत 24 अक्टूबर को दुबई अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ करेगी।

शारजाह की पिचें स्पिनरों की मददगार हैं जबकि दुबई और अबुधाबी की पिचों से तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है जैसा कि आईपीएल में भी देखने को मिला है।

भारतीय टीम के अहम सदस्य हार्दिक आईपीएल के यूएई में चल रहे मौजूदा चरण में पांच बार के चैंपियन मुंबई इंडियन्स की ओर से गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं। फ्रेंचाइजी से कहा है कि भारतीय टीम में उनकी अहमियत को देखते हुए वह हार्दिक को लेकर जल्दबाजी नहीं करेंगे।

इस स्थिति पर प्रसाद से जब उनका रुख पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘देखिए, हार्दिक को आलराउंडर के रूप में चुना गया है, बल्लेबाज के रूप में नहीं, उसे आलराउंडर के रूप में देखा जाता है जो टीम को संतुलन देता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह थोड़ा हैरानी भरा है या मुझे नहीं पता कि उसे इस तरह का कोई निर्देश दिया गया है कि गेंदबाजी नहीं करनी है या उसे सिर्फ विश्व कप में गेंदबाजी के लिए बचाया जा रहा है।’’

प्रसाद ने कहा, ‘‘हमें असल स्थिति के बारे में नहीं पता लेकिन आदर्श स्थिति में हार्दिक को आलराउंडर के रूप में चुना जाता है, मैं उसे गेंदबाजी करते हुए देखना पसंद करता।’’

भारत के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज प्रसाद ने विश्व कप के बाद टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने के कोहली के फैसले का समर्थन किया।

प्रसाद ने कहा, ‘‘उस पर सभी प्रारूपों में गेंदबाजी का दबाव है जो स्पष्ट तौर पर उसके व्यक्तिगत प्रदर्शन पर दिखता है। इसलिए मुझे लगता है कि यह सही फैसला है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम विराट चाहते हैं, ऐसा खिलाड़ी जिसने एक दशक में 70 शतक लगाए, हम उसी विराट को देखना चाहते हैं। अगर टी20 कप्तानी से बल्लेबाजी प्रभावित हो रही है तो यह सही फैसला है।’’

लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को विश्व कप के लिए भारत की टी20 टीम में शामिल नहीं किया गया है और प्रसाद ने कहा कि चेतन शर्मा की अगुआई वाले चयन पैनल ने संभवत: उनकी हाल की फॉर्म में उतार चढ़ाव को देखते हुए यह फैसला किया।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: