तमिल फिल्म ‘सेथ्थुमान’, करिश्मा दुबे की ‘बिट्टू’ ने आईएफएफएलए में जीता पुरस्कार

लॉस एंजिलिस, तमिल फिल्मकार थमीझ की पहली फिल्म ‘सेथ्थुमान’ और करिश्मा दुबे की लघु फिल्म ‘बिट्टू’ ने ‘इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ लॉस एंजिलिस’ (आईएफएफएलए) में शीर्ष पुरस्कार प्राप्त किए हैं।

आईएफएफएलए का 19वां संस्करण बृहस्पतिवार को समाप्त हुआ और आठ दिन चले इस फिल्म महोत्सव में 17 भाषाओं में निर्मित 40 फिल्मों का प्रदर्शन किया गया जिनमें 16 फिल्में महिला निर्देशकों की थीं।

मिलान चक्रवर्ती, नाथन फिश्चर और जेन विल्सन की जूरी ने थमीझ की ‘सेथ्थुमान’ को ‘ग्रांड जूरी अवॉर्ड फॉर बेस्ट फीचर’ का विजेता घोषित किया।

जूरी ने कहा कि इस फिल्म ने उन्हें फिल्म निर्माण और नाटक-कला, दोनों ही तौर पर काफी प्रभावित किया है।

फिल्मकार साजिन बाबू की मलयालम फिल्म ‘बिरयानी’ को ‘ऑनरेबल मेन्शन’ जबकि अजीतपाल सिंह की ‘फायर इन माउंटेन’ को ‘ऑडियंस अवॉर्ड फॉर बेस्ट फीचर’ का पुरस्कार मिला।

दुबे की ‘बिट्टू’ ने ’ग्रांड जूरी प्राइज़ फॉर बेस्ट शॉर्ट’ का पुरस्कार अपनी झोली में डाला। यह फिल्म 2021 के ऑस्कर पुरस्कार में नामांकन पाने की दौड़ में शामिल थी।

लघु फिल्मों की जूरी में तनुज चोपड़ा, निक डोडनी और सकीना जैफ्री शामिल थी। उन्होंने फिल्म को ‘दिलचस्प और सम्मोहक’ बताया।

जूरी ने राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्मकार रीमा दास को ‘फॉर ईच अदर’ और फिल्मकार उपमन्यु भट्टाचार्य और कल्प सांघी को ‘वेड’ के लिए ‘ ऑनरेबल मेन्शन’ से नवाज़ा।

अभिनेत्री निविका चलिकी को ‘फॉरएवर टूनाइट’ में बेहतरीन भूमिका के लिए ‘ऑनरेबल मेन्शन’ से सम्मानित किया गया।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: