तेलंगाना सरकार वृक्षारोपण के लिये बीज गिराने को ड्रोन का इस्तेमाल करेगी

हैदराबाद, तेलंगाना सरकार शहर के स्टार्टअप मारुत ड्रोन के साथ साझेदारी में ‘हरा भरा’ नामक ड्रोन आधारित वनीकरण परियोजना शुरू करने के लिए तैयार है, जिसके तहत बीज बंजर और खाली वन भूमि में गिराए जाएंगे ताकि उन्हें वनाच्छादित हरा-भरा स्थान बनाया जा सके।

एक सरकारी विज्ञप्ति में सोमवार को कहा गया है कि परियोजना के तहत राज्य भर के जंगलों में लगभग 12,000 हेक्टेयर भूमि में 50 लाख पेड़ लगाए जाएंगे।

आईटी और उद्योग मंत्री के टी रामाराव ने मारुत ड्रोन द्वारा ‘सीडकॉप्टर ड्रोन’ का अनावरण किया और ‘हरा भरा’ के लिए पोस्टर अभियान शुरू किया।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि सीडकॉप्टर, तेजी से और मापने योग्य वनीकरण के लिए एक हवाई सीडिंग समाधान, एक समावेशी, टिकाऊ और लंबे समय तक चलने वाले समाधान के लिए समुदाय, विज्ञान और प्रौद्योगिकी को एक साथ लाएगा।

यह परियोजना ड्रोन का उपयोग करके पतली, बंजर और खाली वन भूमि पर बीज, पेड़ों के हरे भरे निवास में बदलने के लिए छिड़काव करती है।

विज्ञप्ति के अनुसार, सीड बॉल स्थानीय महिलाओं और कल्याणकारी समुदायों द्वारा तैयार किए जाते हैं जिन्हें लक्षित क्षेत्रों में ड्रोन के माध्यम से गिराया जाता है। इसके अलावा, बोए गए पौधों के विकास की देखभाल करने के लिए क्षेत्र की लगातार निगरानी की जाती है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : https://www.maxpixel.net/Flying-Meadow-Stands-Drone-Drones-Images-3525493

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: