दार्जिलिंग में भाजपा नेता दिलीप घोष को काले झंडे दिखाए गए

दार्जिलिंग, पश्चिम बंगाल भाजपा इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष को मंगलवार को गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) के समर्थकों ने उस समय काले झंडे दिखाए जब वह पार्टी के कार्यक्रम में शामिल होने दार्जिलिंग पहुंचे।

भाजपा की राज्य व्यापी ‘परिवर्तन यात्रा’ में शामिल होने यहां पहुंचे घोष को जीजेएम के समर्थकों ने घूम रेलवे स्टेशन के पास काले झंडे दिखाए।

जीजेएम समर्थकों ने आरोप लगाया कि भाजपा लगातार दार्जिलिंग लोकसभा सीट से जीतती है, लेकिन विकास के मामले में केंद्र द्वारा इस इलाके की लगातार अनदेखी की गई।

जीजेएम समर्थकों ने भाजपा नेता के खिलाफ ‘वापस जाओ’ के नारे भी लगाए।

घोष ने दावा किया कि इस घटना के पीछे बिमल गुरुंग और तृणमूल कांग्रेस है क्योंकि पहाड़ों में भाजपा के बढ़ते समर्थन से वे चिंतित हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘पश्चिम बंगाल की यही स्थिति है, विपक्षी पार्टियों को उनका राजनीतिक कार्यक्रम करने नहीं दिया जाता। हम इस भय के माहौल को बदलना चाहते हैं।’’

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2017 में भी इस इलाके की यात्रा के दौरान घोष एवं कुछ अन्य भाजपा नेताओं के साथ जीजेएम समर्थकों ने धक्का मुक्की और मारपीट की थी।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: