दिल्ली के नजफगढ़ और शाहदरा में नालों की सफाई और सौंदर्यीकरण

सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि यमुना में जाने वाले नालों को जोड़ने वाले नजफगढ़ और शाहदरा की सफाई कर सुंदरीकरण किया जाएगा एवं नालों को स्वच्छ जल चैनलों में बदल दिया जाएगा, जिसमें नदी तक पहुंचने वाली पूरक नाली भी शामिल है। उनके विभाग ने नाले के जीर्णोद्धार की योजना बनाई है, जिसका जैन ने शुक्रवार को परीक्षण किया।

नालों में वर्तमान में अपशिष्ट जल पहुंचाने के अलावा ठोस कचरा भरा हुआ है। नालों में पानी की गुणवत्ता बिगड़ने की वजह से होने वाली समस्याओं के समाधान का काम विभाग को सौंपा गया है। नालों को स्वच्छ जल चैनलों में बदलना है, जिसमें नदी तक पहुंचने वाली पूरक नाली भी शामिल है। नालों की सफाई से आसपास के क्षेत्रों में भूजल स्तर को बढ़ाने में सहायता मिलेगी।

मंत्री ने कहा कि नदी की सफाई दिल्ली सरकार का प्राथमिक लक्ष्य है और एजेंसियों की बहुलता को काम की प्रगति को धीमा नहीं करना चाहिए।

ये बड़े-बड़े नाले जो यमुना में गिरते हैं, नदी को कचरे से दूषित करते हैं। गुड़गांव का पानी नजफगढ़ नाले में भी जाता है। शाहदरा लिंक ड्रेन, जो 4 किलोमीटर तक चलती है और यमुना में गिरती है, पूर्वी दिल्ली से पानी लाती है।

फोटो क्रेडिट : https://www.flickr.com/photos/mayankaustensoofi/3873321638

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: