दिल्ली में ‘जहां वोट, वहां टीकाकरण’ अभियान शुरू

नयी दिल्ली, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि दिल्ली के मतदान केंद्रों को टीकाकरण केंद्रों में बदला जाएगा और ‘जहां वोट, वहां टीकाकरण’ अभियान के तहत बूथ स्तर के अधिकारी (बीएलओ) घर-घर जाकर 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के टीकाकरण के लिए स्लॉट बुक करेंगे।

केजरीवाल ने ऑनलाइन ब्रीफ्रिंग में कहा कि दिल्ली में 45 वर्ष से अधिक उम्र के 57 लाख लोग हैं जिनमें से 27 लाख को कोरोना वायरस रोधी टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है जबकि 30 लाख लोगों का अभी टीकाकरण नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने देखा है कि दिल्ली सरकार द्वारा बनाए गए टीकाकरण केंद्रों पर 45 वर्ष और अधिक आयु वर्ग के लोग नहीं आ रहे हैं और टीकों का पूरा इस्तेमाल नहीं हो पा रहा है।’’

मुख्यमंत्री ने बताया कि दिल्ली में करीब 280 वार्ड हैं। मंगलवार से बीएलओ 72 वार्ड के घरों में जाएंगे और टीकाकरण के लिए पात्रता रखने वाले लोगों की पहचान करेंगे तथा उन्हें मतदान केंद्रों पर टीकाकरण के लिए भेजेंगे। उन्होंने कहा कि चूंकि मतदान केंद्र लोगों के घरों के नजदीक हैं इसलिए उन्हें टीका लगवाने के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा। इसके अलावा, सरकार ने लोगों को टीकाकरण केंद्र तक लाने के लिए ई-रिक्शों की भी व्यवस्था की है।

केजरीवाल ने बताया कि बीएलओ 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को नजदीक के मतदान केंद्रों पर टीकाकरण करवाने के लिए समय और तारीख बताएंगे। पांच दिन के चक्र में सभी पात्र लोगों को इसमें शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘चार हफ्ते में सभी 280 वार्ड में यह प्रक्रिया की जाएगी और उसके बाद सरकार यह कह पाने में सक्षम हो सकती है कि सभी पात्र (45 वर्ष एवं अधिक) लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।’’

मुख्यमंत्री ने बताया कि इसी तरह का अभियान तीन महीने के बाद टीके की दूसरी खुराक के लिए चलाया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘जब हमें 18-44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों के लिहाज से पर्याप्त मात्रा में टीके मिल जाएंगे तो हम इस आयुवर्ग के लोगों के लिए भी यही कार्यक्रम शुरू करेंगे।’’

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: