न्यूजीलैंड में ‘आतंकवादी’ हमला, छह लोगों को चाकू घोंपने वाला हमलावर मारा गया

वेलिंगटन (न्यूजीलैंड), न्यूजीलैंड के प्राधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने एक सुपरमार्केट में चाकू मारकर छह लोगों को घायल करने वाले हिंसक चरमपंथी को गोली मार दी है।

प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने इस घटना को आतंकवादी हमला बताया। उन्होंने कहा कि हमलावर श्रीलंकाई नागरिक था जो इस्लामिक स्टेट समूह के प्रभाव में था। उन्होंने बताया कि वह देश की सुरक्षा एजेंसियों की रडार पर था और उसकी चौबीसों घंटे निगरानी की जा रही थी।

अर्डर्न ने बताया कि कानून के मुताबिक, इस व्यक्ति को जेल में रखने की अनुमति नहीं थी। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को छुरा घोंपा गया है उनमें से तीन गंभीर रूप से घायल हुए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘यह एक हिंसक हमला था। यह बेवकूफाना हमला था। मुझे बहुत दुख है कि यह हुआ।’’

न्यूजीलैंड के सबसे बड़े शहर ऑकलैंड के एक सुपरमार्केट में दोपहर करीब दो बजकर 40 मिनट पर यह हमला हुआ।

अर्डर्न ने कहा कि इस व्यक्ति की लगातार निगरानी किए जाने के कारण पुलिस टीम और विशेष रणनीति समूह ने हमला शुरू होने के 60 सेकंड के भीतर उसे गोली मार दी जिससे उसकी मौत हो गयी।

पुलिस आयुक्त एंड्रयू कोस्टर ने कहा कि वे इस व्यक्ति की विचारधारा को लेकर चिंतित थे और उस पर करीबी नजर रखे हुए थे। कोस्टर ने कहा कि उन्होंने शुक्रवार को उसके घर से सुपरमार्केट तक उसका पीछा किया। उन्होंने कहा, ‘‘वह स्टोर में घुसा जैसा कि वह पहले भी वहां जा चुका है। उसने स्टोर से एक चाकू लिया। निगरानी दल उसकी गतिविधि पर नजर रखने के लिए जितना करीब जा सकते थे उतना करीब थे।’’

कोस्टर ने बताया कि जब हमला शुरू हुआ तो विशेष रणनीति समूह के दो पुलिसकर्मी भागे। उन्होंने बताया कि हमलावर चाकू लेकर पुलिस की ओर दौड़ा और इसलिए उन्होंने उसे गोली मार दी।

सुपरमार्केट के भीतर एक व्यक्ति द्वारा बनाये गए वीडियो में 10 गोलियां चलने की आवाज सुनी गयी।

अर्डर्न ने बताया कि कानूनी बाधाओं ने उन्हें सबकुछ बताने से रोक दिया है लेकिन उन्हें उम्मीद है कि ये बाधाएं जल्द ही दूर हो जाएंगी।

ऐसा बताया जा रहा है कि सुपरमार्केट में कुछ दुकानदारों ने घायल हुए लोगों की तौलिए और डायपर से मदद करने की कोशिश की।

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘वहां मौजूद हर व्यक्ति और जिसने इस भयानक घटना को देखा उनके बारे में मैं कल्पना भी नहीं कर सकती कि इसके बाद वह कैसा महसूस करेंगे। लेकिन घायलों की मदद के वास्ते आगे आने के लिए आपका शुक्रिया।’’

ऑकलैंड में कोरोना वायरस फैलने के कारण सख्त लॉकडाउन है। ज्यादातर व्यवसाय बंद हैं और आमतौर पर लोगों को केवल किराने का सामान और दवाएं खरीदने के लिए घर से निकलने की अनुमति दी जाती है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: