पर्यटन के क्षेत्र में देश में अव्वल बने राजस्थान : गहलोत

जयपुर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को कहा कि राज्य सरकार राजस्थान को पर्यटन के क्षेत्र में अव्वल बनाने के लिए पूरी प्रतिबद्धता से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि साथ ही हमारा प्रयास है कि कोरोना महामारी से प्रभावित राज्य के पर्यटन उद्योग को संबल मिले।

गहलोत विश्व पर्यटन दिवस पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गौरवशाली इतिहास, ऐतिहासिक धरोहरों, मजबूत किलों, विविध प्राकृतिक सम्पदा तथा रंग-बिरंगी लोक संस्कृति जैसी अनूठी विशेषताओं को समेटे राजस्थान विश्व पर्यटन में विशेष स्थान रखता है। दुनिया के कोने-कोने से पर्यटक यहां आते हैं।

उन्होंने कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में राजस्थान को देश का अव्वल राज्य बनाने की दिशा में सरकार पूरी प्रतिबद्धता से काम कर रही है। साथ ही हमारा प्रयास है कि कोविड महामारी की विपरीत स्थितियों से प्रभावित प्रदेश के पर्यटन उद्योग को संबल मिले तथा पर्यटन गतिविधियां पुनः पटरी पर लौटे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अच्छी सड़कों, बेहतर रेल व हवाई नेटवर्क, कानून-व्यवस्था की बेहतर स्थिति तथा बिजली एवं पानी की पर्याप्त उपलब्धता के कारण राजस्थान दुनिया भर में शादी विवाह व अन्य आयोजनों के गंतव्य के रूप में उभर रहा है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान में पर्यटन के विकास की अपार संभावनाएं हैं और राज्य सरकार इस क्षेत्र को बढ़ावा देने में कोई कमी नहीं छोड़ेगी। पर्यटन गतिविधियों को गति देने के लिए नई पर्यटन नीति-2020 तथा 500 करोड़ रुपए के पर्यटन विकास कोष के गठन जैसे निर्णय लिए गए हैं।

गहलोत ने कहा कि कोरोना की विषम परिस्थितियों से प्रभावित पर्यटन उद्यमियों को आर्थिक संबल देने के लिए मुख्यमंत्री पर्यटन उद्योग संबल योजना संचालित की गई है।

मुख्यमंत्री ने राजस्थान आने वाले पर्यटकों को टूर प्रोग्राम बनाने में मदद देने के लिए तैयार किए गए मोबाइल एप ‘राजस्थान टूरिज्म ऑफिशियल’ का लोकार्पण किया। उन्होंने पर्यटन विभाग द्वारा राज्य में पर्यटन विकास के लिए जारी विभिन्न नीतियों, योजनाओं एवं दिशा-निर्देशों के संग्रह का विमोचन किया।

गहलोत ने कोरोना महामारी से प्रभावित पर्यटन एवं आतिथ्य क्षेत्र के उद्यमियों को राहत प्रदान करने के लिए राज्य सरकार की मुख्यमंत्री पर्यटन उद्योग संबल योजना-2021 का विमोचन किया। उन्होंने संशोधित पेइंग गेस्ट हाउस योजना-2021 तथा अनुभवात्मक पर्यटन सेवा प्रदाता के लिए दिशा-निर्देशों का विमोचन किया।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: