पश्चिम बंगाल चुनाव: माकपा ने निर्वाचन आयोग की पारदर्शिता पर उठाया सवाल

कोलकाता, पश्चिम बंगाल माकपा सचिव सूर्यकांत मिश्रा ने बृहस्पतिवार को निर्वाचन आयोग की पारदर्शिता पर सवाल उठाया और दावा किया कि अगर तृणमूल कांग्रेस और भाजपा को बहुमत नहीं मिलता है तो ये दोनों पार्टियां हाथ मिला सकती हैं।

मिश्रा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वामदलों, कांग्रेस और इंडियन सेक्युलर फ्रंट के संयुक्त मोर्चे द्वारा चुनाव में धांधली की कई शिकायतें दर्ज कराने के बावजूद किसी भी शिकायत का संज्ञान नहीं लिया गया और निर्वाचन आयोग केवल “तृणमूल और भाजपा को खुश करने में” लगा हुआ है।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “संयुक्त मोर्चा राज्य में सरकार बनाने के लिए लड़ रहा है। खंडित जनादेश की स्थिति में आपको तृणमूल और भाजपा भी सरकार बनाने के वास्ते हाथ मिलाते हुए दिखेंगे।”

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikipedia

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: