फ्रेंच ओपन :वावरिंका ने पहले दौर में मर्रे को हराया, ज्वेरेव भी जीते

पेरिस, आम तौर पर ग्रैंडस्लैम के पहले दौर में दो ग्रैंडस्लैम चैम्पियनों का सामना नहीं होता लेकिन फ्रेंच ओपन के शुरूआती दौर में यह देखने को मिला जिसमें स्टान वावरिंका ने एंडी मर्रे को शिकस्त दी जबकि अमेरिकी ओपन उपविजेता अलेक्जेंडर ज्वेरेव भी दूसरे दौर में पहुंच गए।

कोरोना वायरस महामारी के कारण फ्रेंच ओपन मई की बजाय सितंबर में हो रहा है । फ्रांस में कोरोना वायरस के बढते मामलों के चलते 1000 दर्शकों को ही प्रवेश की अनुमति दी गई।

वावरिंका ने रविवार को खेले गए इस मुकाबले में 97 मिनट में मर्रे को 6 . 1, 6 . 3, 6 . 2 से हराया ।

मर्रे पूरे मैच में छह गेम ही जीत सके जो उनके 237 ग्रैंडस्लैम मैचों के कैरियर का सबसे खराब प्रदर्शन है ।वह 2014 में भी रोलां गैरो पर 12 बार के चैम्पियन रफेल नडाल से हारे थे ।

इससे पहले दो ग्रैंडस्लैम चैम्पियन की टक्कर पहले दौर में 2012 विम्लबडन में हुई थी जब नोवाक जोकोविच के सामने जुआन कार्लोस फरेरो थे । फ्रेंच ओपन में 199 में माइकल चांग और येवजेनी काफेलनिकोव पहले दौर में एक दूसरे से खेले थे ।

छठी वरीयता प्राप्त ज्वेरेव ने 91वीं रैंकिंग वाले डेनिस नोवाक को 7 . 5, 6 . 2, 6 . 4 से मात दी । उन्होंने मैच में दस ऐस लगाये और उनकी सर्विस बस एक बार टूटी ।

इससे पहले अर्जेंटीना के जुआन इगनासियो लोंडेरो ने करीब पांच घंटे चले पांच सेटों के मुकाबले में हमवतन फेडरिको डेलबोनिस को 6 . 4, 7 . 6 , 2 . 6, 1 . 6, 14 . 12 से हराया । फ्रेंच ओपन ऐसा अकेला ग्रैंडस्लैम है जिसमें आखिरी सेट में टाइब्रेकर का इस्तेमाल नहीं होता है ।

अमेरिकी धुरंधर वीनस विलियम्स इस साल तीसरे ग्रैंडस्लैम में भी पहले दौर में हार गई ।आस्ट्रेलिया ओपन और अमेरिकी ओपन में भी वह इससे आगे नहीं बढ सकी थी । उन्हें अन्ना कैरोलिना ने 6 . 4, 6 . 4 से हराया ।

वहीं 16 वर्ष की अमेरिकी कोको गॉ ने ब्रिटेन की योहाना कोंटा को 6 . 3, 6 . 3 से मात दी । वहीं शीर्ष वरीयता प्राप्त सिमोना हालेप ने सारा एस टोरमो को 6 . 4, 6 . 0 से हराया ।

पुरूष वर्ग में इटली के 19 वर्ष के जानिक सिनेर ने दुनिया के 11वें नंबर के खिलाड़ी डेविड गोफिन को मात दी ।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: