फ्लॉयड की मौत के मामले में पूर्व पुलिस अधिकारी पर चल रहा मुकदमा खत्म होने की कगार पर

मिनियापोलिस, जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के मामले में मिनियापोलिस के पूर्व पुलिस अधिकारी के खिलाफ मुकदमे का आज से तीसरा सप्ताह शुरू हो गया। हालांकि राज्य की ओर से सारी दलीलें रखने और साक्ष्य पेश किए जाने के बाद यह मुकदमा समाप्ति की तरफ बढ़ रहा है।

इस मामले में कई गवाह पेश किए गए, फ्लॉयड की गर्दन पर दबाव बनाए जाने को अधिकारियों ने गलत ठहराया और विशेषज्ञों की गवाही भी शामिल की गई जिन्होंने फ्लॉयड की मौत की वजह ऑक्सीजन की कमी बताई।

श्वेत अधिकारी डेरेक चॉविन पर फ्लॉयड की हत्या का आरोप है। जाली नोट देने के आरोप में फ्लॉयड को पकड़ने के बाद उसी गर्दन पर कथित तौर पर बहुत देर तक दबाब बनाए रखने को उसकी मौत का कारण बताया गया है। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पूरे अमेरिका में इसके खिलाफ व्यापक प्रदर्शन हुए थे।

मिचेल हैमलाइन स्कूल ऑफ लॉ में लॉ प्रोफेसर टेड साम्पसेल जोन्स ने कहा है कि अगर अभियोजन पक्ष यह साबित करने में सफल हो जाता है कि केवल चॉविन के आचरण की वजह से फ्लॉयड की मौत हुई है तो यह मामला बहुत गंभीर हो जाएगा।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikipedia

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: