बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनियों के आचारण को लेकर काफी चिंता: गोयल

नयी दिल्ली, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि अमेरिकी कंपनियों समेत बड़ी प्रौद्योगिकी इकाइयों के आचरण को लेकर काफी चिंताएं है।

उन्होंने कहा कि भारत अपनी नीतियों को संरक्षित करना चाहेगा। मंत्री ने इस बात पर चिंता जताई कि ये कंपनियां के देश के कानून का पालन नहीं करना चाहती हैं। गोयल ने कहा कि भारत अमेरिका के साथ डिजिटल कारोबार के क्षेत्र में रिश्तों को आगे बढ़ाने को लेकर गंभीर है लेकिन हम आंकड़ों की निजता के मामले में भारत के लोगों के प्रति अपनी जिम्मेदारी को लेकर सजग हैं।

उन्होंने कहा कि भारत इस बात को लेकर चिंतित है कि बड़ी कंपनियों के पास भारतीय नागरिकों के बहुत सारे आंकड़े हैं और वे उन आंकड़ों का उपयोग प्राय: अपने विभिन्न क्षेत्रों में करते हैं।

मंत्री ने अमेरिका-भारत व्यापार परिषद (यूएसआईबीसी) को संबोधित करते हुए यह बात कही।

उन्होंने कहा, ‘‘यह अहम है कि बड़ी अमेरिकी कंपनियों को भारत और उसके कानून के पालन को लेकर जवाबदेह बनाने के लिये यूएसआईबीसी जैसे संगठन महत्वपूर्ण भूमिका निभायें…अगर ऐसा नहीं होता है तो डिजिटल प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भागीदारी बढ़ाने में यह बाधा बन सकता है।’’

इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने अपने आदेश पर ट्विटर द्वारा कार्रवाई करने में देरी को लेकर सवाल उठाये हैं। इस लिहाज से मंत्री का बयान महत्वपूर्ण है।

मंत्रालय ने अमेरिकी कंपनी से उन सामग्रियों को ब्लॉक करने को कहा था जिस पर भड़काऊ बातें कही गयी थी और जिससे देश में कानून व्यवस्था पर असर पड़ सकता था। हालांकि अमेरिकी संसद में जब इसी प्रकार का मामला हुआ था, ट्विटर ने तुरंत कदम उठाये थे।

गोयल ने कहा कि वह भारत और अमेरिका के बीच एक नए व्यापार समझौते पर अमेरिकाी व्यापार मंत्री से बातचीत करना चहेंगे।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: