ब्रिटेन ने 10 लाख पाउंड कीमत के मुगल कालीन खंजर और म्यान के निर्यात पर रोक लगाई

लंदन, ब्रिटिश सरकार ने हस्तक्षेप करते हुए 18वीं सदी में मुगल काल में निर्मित खंजर और म्यान के निर्यात पर अस्थायी रोक लगा दी है। सरकार ने यह कदम 10 लाख पाउंड मूल्य की इस दुर्लभ कलाकृति को ब्रिटिश संस्थानों या खरीददारों को मौका देने के लिए उठाया है।

यह खंजर भारत में ब्रिटिश उपनिवेश स्थापित करने के शुरुआती दौर में अहम भूमिका निभाने वाले रॉबर्ट क्लाइव का है और भारत में रहने के दौरान उन्होंने इसे प्राप्त किया था।

माना जाता है कि क्लाव ने यह खंजर 1757 में हुई प्लासी की लड़़ाई में ईस्ट इंडियां कंपनी की ओर से अपनी बंगाल विजय के बाद प्राप्त किया।

ब्रिटेन की संस्कृति मंत्री कैरोनिन डिनेंज ने बताया, ‘‘यह खूबसूरत मुगलकालीन खंजर और म्यान भारत और ब्रिटेन को बहुत सिखाता है और उस समय राजनयिक उपहार की प्रकृति को बताता है।मुझे उम्मीद है कि इसका खरीददार मिल जाएगा जिससे आने वाले सालों तक अध्ययन किया जा सकेगा।’’

विशेषज्ञों ने बताया कि इस खंजर और म्यान की कीमत 11,20,000 पाउंड (करीब 11.3 करोड़ रुपये) है और इसका मूठ हरे रंग का है जिसमें कीमती पत्थर लगे हुए हैं जबकि खंजर का भारतीय इस्पात बेहतरीन है। वहीं, म्यान 1650 में रेशमी किनारी के साथ लकड़ी का बना हुआ है। इसपर ईरानी प्रभाव दिखता है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: