भारत-अमेरिका साझेदारी निर्णायक जलवायु कार्रवाई के लिए संयुक्त प्रतिबद्धता दर्शाती है: कैरी

वाशिंगटन, अमेरिका के एक शीर्ष अधिकारी ने बृहस्पतिवार को कहा कि जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र में महत्वाकांक्षी भारत-अमेरिका साझेदारी इस महत्वपूर्ण दशक (2020-2030) में निर्णायक कार्रवाई करने के लिए दोनों देशों की संयुक्त प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में सहयोग द्विपक्षीय संबंधों के लिए एक अहम स्तंभ है।

पिछले महीने अपनी भारत यात्रा के दौरान, जलवायु परिवर्तन से जुड़े मामलों पर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के विशेष दूत जॉन कैरी ने कहा था कि उन्होंने अपने भारतीय समकक्ष भूपेंद्र यादव के साथ जलवायु कार्रवाई और वित्त एकत्रीकरण पर वार्ता शुरू की है, जिसके माध्यम से दोनों देश कार्बन को कम करने की दिशा में काम करेंगे।

कैरी ने यूएसडी इंडिया बिजनेस काउंसिल द्वारा डिजिटल तरीके से आयोजित इंडिया आइडियाज समिट में अपने संबोधन में कहा, ‘यह महत्वपूर्ण संवाद अमेरिका-भारत जलवायु एवं स्वच्छ ऊर्जा एजेंडा 2030 साझेदारी के तहत किये गए प्रयास का हिस्सा है , जिसकी घोषणा राष्ट्रपति (जो) बाइडन और प्रधानमंत्री (नरेंद्र) मोदी ने अप्रैल में की थी। हमारी साझेदारी इस महत्वपूर्ण दशक (2020-2030) में निर्णायक जलवायु कार्रवाई करने के लिए हमारी संयुक्त प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है।”

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: