भारत ने सितंबर में 18 देशों के साथ एयर बबल समझौते के हिस्से के रूप में 49 शहरों के बीच अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू कीं

नागरिक उड्डयन मंत्रालय के ताजा बयान के अनुसार, भारत ने 18 देशों के साथ एयर बबल समझौते के तहत सितंबर में 49 गंतव्यों के बीच उड़ानें शुरू कीं। दो देशों के बीच एक एयर-बबल समझौते के तहत उनकी एयरलाइनों द्वारा अपनी सीमाओं के बीच विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित की जा सकती हैं।

इन उड़ानों के कार्यक्रम केवल 30 सितंबर तक ही उपलब्ध हैं। हालांकि, कोविड -19 महामारी के कारण, निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानें 30 सितंबर तक के लिए स्थगित कर दी गई हैं।

संयुक्त राज्य अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त अरब अमीरात, केन्या, भूटान और फ्रांस सहित लगभग 28 देशों ने भारत के साथ एयर-बबल समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

दूसरे देश की यात्रा की योजना बना रहे यात्रियों को उन शहरों की सूची देखनी चाहिए जिनके साथ भारत ने हवाई बुलबुला समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। यात्रियों को इन देशों के लिए एयर इंडिया की वेबसाइट, कार्यालयों और ट्रैवल ब्रोकरों के माध्यम से भी टिकट बुक करना होगा। भारत ने एयर-बबल समझौते के तहत 3 सितंबर को बांग्लादेश के साथ उड़ानें फिर से शुरू कीं।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अनुसार, भारतीय एयरलाइंस और हवाई अड्डों को वित्तीय वर्ष 2021 में कोविड महामारी के परिणामस्वरूप कुल 22,400 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ, जिसने सरकार को 23 मार्च को उड़ान संचालन बंद करने के लिए मजबूर किया।

मई 2020 में घरेलू एयरलाइन संचालन फिर से शुरू होने के बावजूद, एयर बबल समझौतों और वंदे भारत मिशन के तहत अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें चलीं। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने अप्रैल-जून 2019 में राजस्व में 2,976.17 करोड़ रुपये से 889 रुपये की कमी दर्ज की है।

फोटो क्रेडिट : https://www.flickr.com/photos/cb-aviation-photography/48454707647/

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: