भारत, यूएई के बीच समझौते पर हस्ताक्षर : अनुसंधान, शिक्षण के लिए अबुधाबी जाएंगे प्राध्यापक

दुबई, भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच अकादमिक व सांस्कृतिक संबंधों को प्रगाढ़ बनाने के लिये एक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं, जिसके तहत भारतीय विश्वविद्यालयों के संकाय सदस्य सामाजिक विज्ञान के अनुसंधान और शिक्षण के लिए हर साल छह से 10 महीने अबू धाबी में बिताएंगे।

भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) और न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय अबू धाबी (एनवाईयूएडी) के बीच, एनवाईयूएडी में सामाजिक विज्ञान में विजिटिंग प्रोफेसरशिप शुरू करने के समझौते पर बृहस्पतिवार को यहां हस्ताक्षर किए गए।

आईसीसीआर भारत और अन्य देशों के बीच सांस्कृतिक संबंधों को बढ़ावा देने और आपसी समझ को मजबूत करने के लिए सरकार द्वारा संचालित संस्थान है, तो वहीं एनवाईयूएडी न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय का एक पोर्टल परिसर है जो अबू धाबी में कला महाविद्यालय के रूप में कार्य कर रहा है।

भारतीय दूतावास द्वारा जारी एक संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, साझेदारी के माध्यम से, एनवाईयूएडी और आईसीसीआर सहयोगात्मक रूप से भारतीय विश्वविद्यालयों के संकाय सदस्यों को आईसीसीआर विजिटिंग प्रोफेसरशिप में नियुक्त करेंगे। अतिथि संकाय सदस्य एनवाईयूएडी में सामाजिक विज्ञान विभाग में अनुसंधान और शिक्षण के लिए छह से 10 महीने बिताएंगे।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Twitter

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: