मरीन कोर ने कोविड-19 टीके से पहली धार्मिक रियायतों को मंजूरी दी

वाशिंगटन, अमेरिकी नौसेना की ‘मरीन कोर’ ने धार्मिक कारणों के आधार पर दो मामलों में पहली बार कोविड-19 टीकों से छूट को मंजूरी दे दी है। अब तक किसी अन्य सैन्य सेवा ने इस तरह की छूट नहीं दी है।

मरीन कोर ने शुक्रवार को कहा कि ये दो रियायतें पिछले 10 वर्षों में कोर द्वारा स्वीकृत पहली रियायतें हैं। बृहस्पतिवार तक, मरीन कोर को अनिवार्य टीकाकरण में धार्मिक आधार पर छूट देने के 3,350 अनुरोध प्राप्त हुए थे और 3,212 को अस्वीकार कर दिया गया। निजी कारणों से, इन दो खास मंजूरियों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी गई है।

धार्मिक छूट देने में विफलता के लिए सेवाओं की आलोचना की गई है जहां कांग्रेस के सदस्यों, सेना और जनता ने सवाल किया कि क्या समीक्षा प्रक्रिया निष्पक्ष रही है।

कुल मिलाकर, सेवा के नेतृत्वकर्ताओं ने कहा है कि वर्षों से सेना द्वारा आवश्यक कई टीकों में से किसी के लिए भी धार्मिक छूट दिया जाना बहुत दुर्लभ रहा है। सैनिकों को 17 अलग-अलग टीके लगवाने की आवश्यकता होती है।

एक बयान में कोर ने कहा, “सभी छूट अनुरोधों की मामला दर मामला आधार पर समीक्षा की जा रही है। प्रत्येक आग्रह पर उसमें दिए गए तथ्यों एवं परिस्थितियों के आधार पर पूरी तरह विचार किया जाएगा।”

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: