महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के गांवों के हालात से हमें भी सबक लेना चाहिए: गहलोत

जयपुर, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को कहा कि राजस्थान में अभी गांव सुरक्षित हैं लेकिन महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ की सीमाओं पर स्थित गांवों में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। ऐसे में वहां की स्थिति से सबक लेने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर प्रधानमंत्री एवं सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक में कुछ बातें प्रमुखता से आई हैं।

गहलोत ने कहा, ‘ मैं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की बात का समर्थन करता हूं कि समय पर इलाज होने से मरीज की जान बच सकती है।’

गहलोत ने ट्वीट में कहा, ‘‘राजस्थान समेत देशभर में संक्रमित व्यक्ति लक्षण दिखने के बावजूद देरी से अस्पताल आते हैं जिससे मृत्यु की संख्या बढ़ती है। मैं आमजन से अपील करता हूं कि लक्षण दिखते ही तुरंत अस्पताल जाकर इलाज लें।’’

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे एवं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया है कि दोनों राज्यों की सीमाओं पर स्थित गांवों में कोरोना तेजी से फैल रहा है।

उन्होंने कहा कि पहले कोरोना सिर्फ शहरों तक सीमित माना गया था लेकिन अब ग्रामीण इलाकों में भी इसका गंभीर असर दिख रहा है। राजस्थान में अभी गांव सुरक्षित हैं, ऐसे में वहां की स्थिति से सबक लेना चाहिए।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में बेहतर निगरानी करके राज्य सरकार शहरों में कोरोना पर काबू पाने का प्रयास कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विशेषज्ञों की राय है कि कोरोना टीका लगने का लाभ यह होता है कि टीकाकरण के बाद भी यदि कोरोना हो जाता है तो मरीज की स्थिति गंभीर नहीं होती है एवं मृत्यु की आंशका नहीं के बराबर हो जाती है इसलिए टीका लगवाना बेहद जरूरी है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: