मुख्तार को लाने बांदा पुलिस पंजाब रवाना, सांसद ने जताई षड्यंत्र की आशंका

बांदा (उप्र), बाहुबली बसपा विधायक मुख्तार अंसारी को बांदा जेल लाने के लिए बांदा पुलिस का एक भारी-भरकम दल सोमवार सुबह पंजाब रवाना हो गया। इस दल में पीएसी की एक कंपनी और कई वज्र वाहनों के अलावा एंबुलेंस भी शामिल हैं। उधर, मुख्तार अंसारी के बड़े भाई और गाजीपुर से बहुजन समाज पार्टी के सांसद अफजाल अंसारी ने मुख्तार अंसारी को उत्‍तर प्रदेश की जेल में रखे जाने के दौरान कोई षड्यंत्र रचे जाने की आशंका जताई है ।

नाम न उजागर करने की शर्त पर पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि उच्चतम न्यायालय के आदेश पर पंजाब के रोपड़ जिले की जेल में बंद गैंगस्टर एवं मऊ से बसपा विधायक मुख्तार अंसारी को बांदा जेल लाने के लिए पीएसी की एक कंपनी के अलावा अत्याधुनिक हथियारों से लैश करीब 80 पुलिस जवानों का एक दल आज सुबह (सोमवार को) बांदा से पंजाब के लिए रवाना हो गया है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से इसे बेहद गोपनीय रखा गया है।

वहीं, रविवार को दिल्ली से आए इंजीनियरों ने बांदा जेल के सीसीटीवी कैमरों व जैमर को चेक किया, उनकी कमियां दुरुस्त कीं।

प्रभारी जेल अधीक्षक प्रमोद तिवारी ने बताया कि मुख्तार को रखे जाने वाली जेल की बैरक (15 नंबर) में रोशनी, पेयजल व्यवस्था और साफ-सफाई दुरुस्त करा दी गई है । उन्होंने बताया कि इस बैरक में अन्य बंदी नहीं पहुंच पाएंगे और तीन बंदी रक्षक बैरक के अंदर भी तैनात रहेंगे।

उल्लेखनीय है क़ि मुख्तार अंसारी एक मामले में पंजाब की रोपड़ जेल में बंद हैं। अंसारी को लाने के लिए राज्य सरकार और पंजाब सरकार के बीच उच्चतम न्यायालय तक मामला चला। 26 मार्च को उच्चतम न्यायालय ने फैसला सुनाते हुए मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश भेजने का आदेश दिया था। शीर्ष अदालत ने पंजाब की जेल में बंद मुख्तार को दो सप्ताह में उत्तर प्रदेश भेजने का निर्देश दिया। उच्चतम न्यायालय ने मुख्तार की कस्टडी ट्रांसफर याचिका पर यह फैसला सुनाया था।

इस बीच बलिया से मिली खबर के अनुसार विधायक मुख्तार अंसारी के बड़े भाई और गाजीपुर से बहुजन समाज पार्टी के सांसद अफजाल अंसारी ने आज मुख्तार अंसारी को उप्र की जेल में रखे जाने के दौरान कोई षड्यंत्र रचे जाने की आशंका जताई है । उन्होंने मुख्तार अंसारी की सुरक्षा के मसले पर न्यायपालिका की शरण में जाने की घोषणा की है ।

सांसद अंसारी ने सोमवार को ‘पीटीआई-भाषा’ से बातचीत करते हुए कहा कि अंसारी परिवार को मुख्तार अंसारी की सुरक्षा को लेकर मीडिया रपट व भाजपा नेताओं के बयान के कारण आशंका है। उन्होंने कहा कि मुख्तार अंसारी को पंजाब से लाकर उत्तर प्रदेश की जेल में रखे जाने पर उसके साथ कोई षड्यंत्र रचा जा सकता है ।

अफजाल ने कहा ‘ जब राज्य सरकार द्वारा ही सुरक्षा पर संकट उत्पन्न किया जा रहा हो तो न्यायपालिका की शरण में जाने के सिवाय कोई अन्य विकल्प नहीं बचता ।’

उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय को मीडिया रपट व भाजपा नेताओं के बयानबाजी को देखते हुए मुख्तार अंसारी के सुरक्षा मसले का स्वयं संज्ञान लेना चाहिए । उन्होंने कहा कि उन्हें देश की स्वतंत्र न्यायपालिका पर गर्व है, देश में अभी न्याय जिंदा है ।

अफजाल ने मुख्तार अंसारी पर मुस्लिम देशों से फंडिंग के आरोप को लेकर जांच की चुनौती दी है । संसदीय कार्य राज्य मंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल ने रविवार को मुख्तार अंसारी को मुस्लिम रक्षक के रूप में पेश कर मुस्लिम देशों से फंडिंग का आरोप लगाया था। इस बारे में अफजाल ने कहा कि भाजपा की केंद्र व राज्य में सरकार है,इसकी जांच किसी भी एजेंसी से कराई जा सकती है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: