मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा, पौधे लगाने वाले आठवीं से 12वीं कक्षा के छात्रों को मिलेंगे अतिरिक्त अंक

चंडीगढ़, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रविवार को एक नई नीति की घोषणा की, जिसके तहत आठवीं से 12वीं कक्षा तक के उन छात्रों को अतिरिक्त अंक दिए जाएंगे जो पौधे लगाएंगे और उसकी देखभाल करेंगे।

उन्होंने कहा कि अंतिम परीक्षा में कुछ अतिरिक्त अंक का यह प्रावधान राज्य के स्कूली शिक्षा बोर्ड के तहत आने वाले स्कूलों के छात्रों के लिए होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रावधान के प्रारूप पर जल्द ही काम किया जाएगा।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि उन्होंने पंचकूला जिले में मोरनी पहाड़ियों में स्थित ‘नेचर कैंप’ थापली और प्राकृतिक रास्तों के मनोरम दृश्य के बीच एक पंचकर्म स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन करने के बाद यह घोषणा की।

खट्टर ने पंचकूला जिले के मोरनी पहाड़ी क्षेत्र में गर्म हवा के गुब्बारे, पैराग्लाइडिंग और पानी पर चलने वाले स्कूटर सहित रोमांचक खेलों में भी भाग लिया। उन्होंने कहा कि पड़ोसी क्षेत्रों के युवाओं को पैराग्लाइडिंग का प्रशिक्षण दिया जाएगा और इन गतिविधियों के संचालन के लिए एक क्लब बनाया जाएगा। क्लब का नाम महान खिलाड़ी मिल्खा सिंह के नाम पर रखा जाएगा, जिनका शुक्रवार को यहां कोविड-19 संबंधी जटिलताओं के कारण निधन हो गया।

खट्टर ने कहा, “इसका नाम ‘फ्लाइंग सिख’ (दिवंगत) मिल्खा सिंह के नाम पर रखा जाएगा।” उन्होंने कहा कि पंचकूला और उसके आसपास के क्षेत्रों की एकीकृत विकास योजना से स्थानीय लोगों को रोजगार के कई अवसर मिलेंगे और पंचकूला को देश का सबसे विकसित शहर बनने में मदद मिलेगी। बयान में कहा गया है कि पंचकूला एकीकृत विकास परियोजना के तहत मोरनी पहाड़ियों में वन विभाग द्वारा ग्यारह प्राकृतिक रास्ते (ट्रेल्स) विकसित किए गए हैं। स्थानीय युवा गाइड के रूप में काम करेंगे और पर्यटकों को स्थानीय संस्कृति और परंपराओं और क्षेत्र के वनस्पतियों और जीवों के बारे में भी समझाएंगे।

इस अवसर पर केंद्रीय जल शक्ति राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया, हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता, पर्यटन मंत्री कंवर पाल सहित अन्य लोग मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले लोगों को रोमांचक खेलों का आनंद लेने के लिए मनाली और अन्य स्थानों पर दूर जाना पड़ता था। उन्होंने कहा, “शिवालिक पहाड़ियों की पृष्ठभूमि के बीच स्थित मोरनी हिल्स क्षेत्र में इस तरह की गतिविधियां शुरू करने से लोगों को न केवल इन रोमांचक गतिविधियों में शामिल होने का मौका मिलेगा, बल्कि इससे आसपास के क्षेत्र का आर्थिक विकास भी होगा।”

उन्होंने यह भी कहा कि पंचकूला में पर्यटन सूचना केंद्र और यात्री निवास स्थापित किया जाएगा। पर्यटकों के लिए ‘पंचकूला दर्शन’ के लिए पांच बसें तैनात की जाएंगी।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: