मैंने अपने परिवार से हार नहीं मानना सीखा है: करण देओल

मुंबई, ‘पल पल दिल के पास’ से सिनेमा की दुनिया में कदम रखने वाले करण देओल ने कहा कि वह अपने काम को लेकर प्रतिबद्ध हैं और बेहतर अभिनेता बन रहे हैं। देओल की पहली फिल्म बॉक्स ऑफिस पर खास कमाल नहीं कर पाई थी।

देओल ने ‘पल पल दिल के पास’ को दर्शकों से अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिलने के बारे में कहा कि इससे गुजरना काफी मुश्किल था। इस फिल्म का निर्देशन उनके पिता व अभिनेता से नेता बने सनी देओल ने किया था।

हालांकि, अभिनेता ने कहा कि वह इस पड़ाव से आगे बढ़ चुके हैं और दादा धर्मेंद्र, बॉबी देओल और अभय देओल समेत परिवार के अन्य सदस्यों से उन्हें काफी प्रेरणा मिली क्योंकि ये ऐसे लोग हैं, जिन्होंने अपने जीवन में बुरे वक्त देखे हैं लेकिन हार कर बैठे नहीं।

देओल ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘ पल-पल दिल के पास के परिणाम अच्छे नहीं थे। दुर्भाग्यवश मैं लॉकडाउन की वजह से काम पर वापस नहीं लौट पाया और बाकी लोगों की तरह ही घर पर बैठा रहा। मैंने सोचा कि ऐसे समय में मुझे खुद पर और अपने शिल्प पर काम करना चाहिए और चीजों को छोड़ना नहीं चाहिए।’’

अभिनेता (31) ने कहा कि उन्होंने सोचा कि करियर में उतार-चढ़ाव तो आते रहेंगे क्योंकि यही जिंदगी है। अभिनय से मुझे प्रेम है और मैं यही करना चाहता हूं। अभिनेता फिलहाल ‘वेले’ के प्रचार में व्यस्त हैं। यह तेलुगु फिल्म ‘ब्रोचेवारेववारुरा’ का रीमेक है और इसके निर्माण में अजय देवगन भी शामिल हैं।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: