मोदी, बाइडन की द्विपक्षीय बैठक से भारत-अमेरिका संबंध में मजबूती आएगी : व्हाइट हाउस के अधिकारी

वाशिंगटन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच 24 सितंबर को होने वाली पहली द्विपक्षीय बैठक से दोनों देशों के बीच संबंध को और मजबूती मिलेगी और क्वाड समूह को नयी गति देने में मदद मिलेगी। व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने यह कहा।

बाइडन 24 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपनी पहली द्विपक्षीय बैठक के लिए व्हाइट हाउस में उनकी मेजबानी करेंगे। उसी दिन बाद में बाइडन, मोदी, जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा और ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन के साथ व्हाइट हाउस में पहली बार प्रत्यक्ष तौर पर क्वाड नेताओं के शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेंगे।

जनवरी में अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद से बाइडन ने प्रधानमंत्री मोदी से कई मौकों पर डिजिटल माध्यम से बात की है। प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति बाइडन के बीच आखिरी बार 26 अप्रैल को टेलीफोन पर बातचीत हुई थी।

व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘बैठक के दौरान दोनों नेता अपने लोगों और साझा लोकतांत्रिक मूल्यों के बीच गहरे संबंधों को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित करेंगे, जिसने सात दशकों से अधिक समय तक अमेरिका और भारत के बीच विशेष बंधन को मजबूती दी है।’’ अधिकारी ने बताया, ‘‘बाइडन-हैरिस प्रशासन ने स्वतंत्र और मुक्त हिंद-प्रशांत को बनाए रखने में मिलकर काम करने, कोविड-19 महामारी को समाप्त करने के लिए प्रयासों का नेतृत्व करके और जलवायु संकट को दूर करने के लिए ठोस कार्रवाई करके भारत के साथ अपनी साझेदारी को बढ़ाया है।’’

इससे पहले एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था कि भारत के साथ साझेदारी के दृष्टिकोण से बाइडन-मोदी की बैठक इसे मजबूती से आगे ले जाने का अवसर होगी।

अधिकारी ने बताया कि अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस 23 सितंबर को यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगी, जो मोदी और राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच पहली द्विपक्षीय बैठक होगी और व्हाइट हाउस में क्वाड शिखर सम्मेलन से एक दिन पहले होगी।

अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘उपराष्ट्रपति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगी।’’ दोनों नेताओं के बीच यह पहली मुलाकात होगी। हैरिस ने इससे पहले कोविड-19 संकट के दौरान मोदी से फोन पर बात की थी। हैरिस अमेरिका की उपराष्ट्रपति बनने वाली भारतीय मूल की पहली महिला हैं।

व्हाइट हाउस के अनुसार इस सप्ताह के दौरान जब विश्व के नेता संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र में भाग लेने के लिए न्यूयॉर्क में एकत्रित होंगे, तब हैरिस मंगलवार को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के साथ बैठक करेंगी, बुधवार को वह जाम्बिया के राष्ट्रपति हाकेंडे हिचिलेमा से और बृहस्पतिवार को घाना के राष्ट्रपति नाना एडो डंकवा अकुफो-एडो से मुलाकात करेंगी।

व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार बुधवार को वह डिजिटल माध्यम से होने वाले राष्ट्रपति के कोविड शिखर सम्मेलन में भविष्य की महामारियों को बेहतर तरीके से रोकने के विषय पर एक सत्र का नेतृत्व करेंगी।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: