मोपला विद्रोह को हिन्दुओं का जनसंहार घोषित करे सरकार: आरएसएस

नयी दिल्ली, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से संबद्ध एक ‘थिंक-टैंक’ ने बुधवार को कहा कि 1921 के मोपला विद्रोह को “जनसंहार के तौर पर याद किया जाना चाहिए और एक स्मारक का निर्माण भी किया जाना चाहिए।”

प्रज्ञा प्रवाह के अखिल भारतीय संयोजक जे. नंदकुमार ने कहा कि केरल में मलप्पुरम में सौ साल पहले हुई 1921 की मालाबार हत्याओं की याद में सरकार को एक “जनसंहार स्मारक” बनवाना चाहिए और 25 सितंबर को “मालाबार हिन्दू जनसंहार दिवस” के रूप में मनाया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मालाबार हत्याओं को अंग्रेजों या जमींदारों के विरुद्ध लड़ाई के रूप में मान्यता दिए जाने का संघ विरोध करता रहा है। नंदकुमार ने कहा कि यह हिन्दुओं को लक्षित कर किया गया जनसंहार था।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: