यशराज फिल्म्स ने 30,000 सिने कर्मियों के टीकाकरण में मदद करने की पेशकश की

मुंबई, कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच सिने कर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए देश के प्रमुख प्रोडक्शन हाउस यशराज फिल्म्स ने ‘फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्पलॉइज़’ (एफडब्ल्यूआईसीई) के 30,000 सदस्यों के टीकाकरण की जिम्मेदारी लेने की घोषणा की है।

एफडब्ल्यूआईसीई को लिखे पत्र में यशराज फिल्म्स (वाईआरएफ) ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से आग्रह किया है कि फेडरेशन के इन पंजीकृत सदस्यों के टीकाकरण के लिए उन्हें कोविड-19 रोधी टीका खरीदने की इजाजत दी जाए।

एफडब्ल्यूआईसीई में कुल 2.5 लाख पंजीकृत कर्मी हैं।

वाईआरएफ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अक्षय विधानी ने एक मई को लिखे पत्र में कहा है कि प्रोडक्शन हाउस ने ‘द यश चोपड़ा फाउंडेशन’ के जरिए दिहाड़ी कर्मियों की मदद की पेशकश की है।

पत्र में कहा गया है कि सिने जगत एक अप्रत्याशित समय से गुजर रहा है और गतिविधियों को जल्द से जल्द फिर से शुरू करने की तत्काल जरूरत है ताकि हजारों कर्मी अपनी जीविका कमाना शुरू करें और परिवारों की जरूरतों को पूरा कर सकें।

पत्र में कहा गया है, “ द यश चोपड़ा फाउंडेशन कर्मियों के टीकाकरण से संबंधित सभी खर्चे भी उठाएगी जैसे जागरुकता फैलाना, कर्मियों को लाना-ले जाना, टीकाकरण कार्यक्रम के लिए बुनियादी ढांचा बनाना।”

एफडब्ल्यूआईसी के अध्यक्ष बी तिवारी ने पीटीआई-भाषा से कहा कि फिल्म संगठन प्रोडक्शन हाउस का आभारी है कि उसने कर्मियों की सुरक्षा के बारे में सोचा।

वाईआरएफ के पत्र के सदंर्भ में एफडब्ल्यूआईसी ने ठाकरे को चिट्ठी लिखकर फिल्म जगत के कलाकारों, कर्मियों और तकनीशियनों के लिए टीका उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।

मुंबई, चार मई (भाषा) कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच सिने कर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए देश के प्रमुख प्रोडक्शन हाउस यशराज फिल्म्स ने ‘फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्पलॉइज़’ (एफडब्ल्यूआईसीई) के 30,000 सदस्यों के टीकाकरण की जिम्मेदारी लेने की घोषणा की है।

एफडब्ल्यूआईसीई को लिखे पत्र में यशराज फिल्म्स (वाईआरएफ) ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से आग्रह किया है कि फेडरेशन के इन पंजीकृत सदस्यों के टीकाकरण के लिए उन्हें कोविड-19 रोधी टीका खरीदने की इजाजत दी जाए।

एफडब्ल्यूआईसीई में कुल 2.5 लाख पंजीकृत कर्मी हैं।

वाईआरएफ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अक्षय विधानी ने एक मई को लिखे पत्र में कहा है कि प्रोडक्शन हाउस ने ‘द यश चोपड़ा फाउंडेशन’ के जरिए दिहाड़ी कर्मियों की मदद की पेशकश की है।

पत्र में कहा गया है कि सिने जगत एक अप्रत्याशित समय से गुजर रहा है और गतिविधियों को जल्द से जल्द फिर से शुरू करने की तत्काल जरूरत है ताकि हजारों कर्मी अपनी जीविका कमाना शुरू करें और परिवारों की जरूरतों को पूरा कर सकें।

पत्र में कहा गया है, “ द यश चोपड़ा फाउंडेशन कर्मियों के टीकाकरण से संबंधित सभी खर्चे भी उठाएगी जैसे जागरुकता फैलाना, कर्मियों को लाना-ले जाना, टीकाकरण कार्यक्रम के लिए बुनियादी ढांचा बनाना।”

एफडब्ल्यूआईसी के अध्यक्ष बी तिवारी ने पीटीआई-भाषा से कहा कि फिल्म संगठन प्रोडक्शन हाउस का आभारी है कि उसने कर्मियों की सुरक्षा के बारे में सोचा।

वाईआरएफ के पत्र के सदंर्भ में एफडब्ल्यूआईसी ने ठाकरे को चिट्ठी लिखकर फिल्म जगत के कलाकारों, कर्मियों और तकनीशियनों के लिए टीका उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: