योग ने महामारी के दौरान लोगों की मदद की: हर्षवर्धन

नयी दिल्ली, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने मंगलवार को इस बात को रेखांकित किया कि योग ने कोविड-19 की वजह से सार्वजनिक गतिविधियों पर लगाई गई पाबंदियों के दौरान कैसे लोगों की मदद की है। उन्होंने कहा कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बनाने और तनाव प्रबंधन में योग के फायदे स्पष्ट हैं।

विश्व योग सम्मेलन 2021 के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए हर्षवर्धन ने कहा कि दुनिया भर में योग की स्वीकार्यता बढ़ रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने हर्षवर्धन के हवाले से एक बयान में कहा, “देखा जा रहा है कि पश्चिमी दुनिया में भी योग को एक दैनिक जीवन शैली के रूप में शामिल किया जा रहा है। महामारी के वर्तमान समय में भी, जब शारीरिक और मानसिक फिटनेस पर जोर दिया गया है, कई लोगों ने इसके लिए योग का रुख किया है।”

उन्होंने इस साल योग दिवस पर केंद्रीय संदेश ‘योग के साथ, घर पर रहें’ के महत्व को लेकर कहा कि महामारी की वजह से इस साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सामूहिक गतिविधियां नहीं होंगी।

मंत्री ने कहा,“ यह संदेश कोविड-19 के समय में सबसे अधिक प्रासंगिक है, जब हम सभी के लिए यह आवश्यक है कि हम अपने समग्र स्वास्थ्य की देखभाल करते हुए सभी संभावित सावधानियां बरतें।”

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य है कि योग को हर नागरिक तक लेकर जाया जाए क्योंकि सामग्र सेहत के लिए योग के फायदे साबित हैं।

यह कार्यक्रम मोक्षायतन योग संस्थान ने आयुष मंत्रालय एवं भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के साथ मिलकर सातवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किया है। 21 जून को सातवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: