राहुल ने शतकीय पारी खेल पहले टेस्ट के लिए दावा मजबूत किया

चेस्टर ली स्ट्रीट, लोकेश राहुल की 101 रन की पारी के अलावा रविन्द्र जडेजा (75) के साथ पांचवें विकेट के लिए उनकी 127 रन की साझेदारी के दम पर भारत ने काउंटी एकादश (सिलेक्ट काउंटी एकादश) के खिलाफ तीन दिवसीय अभ्यास मैच में मंगलवार को पहले दिन खेल खत्म होने तक नौ विकेट पर 306 रन बनाए।

स्टंप्स के समय जसप्रीत बुमराह तीन और मोहम्मद सिराज एक रन बनाकर खेल रहे थे। राहुल 150 गेंद में 101 रन बनाकर रिटायर्ड आउट हुए। उन्होंने अपनी पारी में 11 चौके और एक छक्का लगाया। उन्होंने इस पारी से भारतीय टीम में मध्यक्रम में जगह बनाने का अपना दावा मजबूत किया। जडेजा ने 146 गेंद की पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया।

इससे पहले नियमित कप्तान विराट कोहली और टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे मामूली रूप से चोटिल होने के कारण भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बने जबकि अनुभवी गेंदबाजों रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा को विश्राम दिया गया।

काउंटी एकादश टीम में भी चोट और कोविड-19 से जुड़े पृथकवास के कारण अपने खिलाड़ियों को गंवाने के बाद भारत के युवा खिलाड़ी आवेश खान और वाशिंगटन सुंदर इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) की इस टीम की ओर से अपने ही देश की टीम के खिलाफ उतरे।

भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन 10वें ओवर में वह कैच आउट हो गये। सलामी बल्लेबाजी के लिए उनके साथ क्रीज पर उतरे मयंक अग्रवाल ने इस दौरान कुछ आकर्षक चौके लगाये लेकिन वह भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे।

मयंक ने 35 गेंद की पारी में छह चौके की मदद से 28 रन बनाये।

दिन के दूसरे सत्र में हालांकि भारतीय टीम को उस समय झटका लगा जब हनुमा विहारी के शॉट को रोकने की कोशिश में रिजर्व तेज गेंदबाज आवेश अपना अंगूठा चोटिल कर बैठे। चोट की गंभीरता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि आवेश इसके बाद दर्द से कराहते दिखे और भारतीय टीम के फिजियो के साथ मैदान से बाहर चले गये और फिर नहीं लौटे।

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में नाकामी के बाद निराशा झेल रहे पुजारा एक बार फिर नाकाम रहे और 47 गेंद में 21 रन बनाकर विकेटकीपर को कैच थमा बैठे। हनुमा विहारी ने 71 गेंद का सामना किया लेकिन वह भी 24 रन ही बना सके।

अनुभवहीन गेंदबाजों के सामने 107 रन पर चौथा विकेट गंवाने के बाद भारतीय टीम मुश्किल में थी लेकिन राहुल और जडेजा की साझेदारी ने टीम को संभाल लिया।

कोहली और रहाणे को लेकर बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) के सचिव जय शाह ने मीडिया विज्ञप्ति में कहा, ‘‘ कोहली को सोमवार की शाम पीठ में कुछ जकड़न महसूस हुई और उन्हें बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने तीन दिवसीय प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच से आराम करने की सलाह दी है।’’

उन्होंने बताया, ‘‘ उपकप्तान अजिंक्य रहाणे की बायें पैर की मांसपेशियों के आसपास हल्की सूजन है। उन्हें इसका इंजेक्शन दिया गया है। वह तीन दिवसीय प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच के लिए उपलब्ध नहीं थे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ बीसीसीआई की मेडिकल टीम हालांकि, उनकी (रहाणे) निगरानी कर रही है और उम्मीद है कि इंग्लैंड के खिलाफ चार अगस्त से नॉटिंघम में शुरू होने वाले पहले टेस्ट के लिए वह समय पर पूरी तरह से ठीक हो जाएंगे।’’

भारतीय खिलाड़ी इस मैच में पूर्व क्रिकेटर और 1983 विश्व कप के नायक यशपाल शर्मा के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए हाथ पर काली पट्टी बांध कर मैदान में उतरे। यशपाल का 13 जुलाई को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: