रिकॉर्ड संख्या में टीकाकरण हर्षित करनेवाला, कोविड-19 से लड़ाई में टीका सबसे मजूबत हथियार : मोदी

नयी दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में सोमवार को रिकॉर्ड संख्या में कोविड रोधी टीके की खुराक लगाए जाने को ‘‘हर्षित करनेवाला’’ कार्य करार दिया और कहा कि महामारी से लड़ाई में टीका सबसे मजबूत हथियार है।

इससे पहले, प्रधानमंत्री ने महामारी के खिलाफ लड़ाई में मजबूती लाने के लिये लोगों से टीकाकरण कराने की अपील की थी क्योंकि केंद्र सरकार ने सभी वयस्कों के लिए नि:शुल्क टीकाकरण की व्यवस्था की है।

टीकाकरण के संशोधित दिशा-निर्देशों के प्रभाव में आने के बाद सोमवार को शाम तक कोविड रोधी टीके की 82.7 लाख से अधिक खुराक लगाई गईं।

संशोधित दिशा-निर्देशों के तहत 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों का सरकारी केंद्रों में नि:शुल्क कोविड रोधी टीकाकरण किया जाएगा। अब तक 45 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण ही नि:शुल्क था।

मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘आज रिकॉर्ड संख्या में हुआ टीकाकरण हर्षित करनेवाला है। कोविड-19 से लड़ाई में टीका हमारा सबसे मजबूत हथियार बना हुआ है। जिन लोगों का टीकाकरण हुआ, उन्हें बधाई और अग्रिम पंक्ति के वे सभी कर्मी प्रशंसा के पात्र हैं, जिन्होंने इतने लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत की। शानदार भारत।’’

इससे पहले, कोविड रोधी टीके की सर्वाधिक 48 लाख से अधिक खुराक एक अप्रैल को लगाई गई थीं।

प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर एक संदेश में कहा था कि भारत के टीकाकरण अभियान के इस चरण में सबसे बड़े लाभार्थी गरीब, मध्यम वर्ग के लोग और देश के युवा होंगे।

उन्होंने कहा कि भारत लोगों की भागीदारी से कोविड-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई को मजबूत करने के लिए पूरी तरह कटिबद्ध है।

मोदी ने आंकड़े साझा किए जिनमें दोहराया गया कि टीके सुरक्षित हैं और लोगों को अफवाहों से बचना चाहिए।

‘विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान’ शीर्षक वाले एक संदेश में भी टीकाकरण अभियान का ब्योरा दिया गया।

मोदी ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार आज से हर भारतीय के लिए ‘नि:शुल्क टीकाकरण अभियान सभी के लिए’ की शुरुआत कर रही है। इस चरण के सबसे बड़े लाभार्थी गरीब, मध्यम वर्ग के लोग और देश के युवा होंगे। हम सभी को अपना टीकाकरण कराने का संकल्प लेना चाहिए। मिलकर हम कोविड-19 को हराएंगे।’’

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: