शास्त्री आरटी . पीसीआर टेस्ट में भी कोरोना पॉजिटिव,मैनचेस्टर नहीं जायेंगे: बीसीसीआई सूत्र

लंदन, भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री आरटी पीसीआर टेस्ट में भी कोरोना संक्रमित पाये गए हैं और अगले दस दिन पृथकवास में रहेंगे जिससे इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर में पांचवें और आखिरी टेस्ट में वह टीम से बाहर रहेंगे ।

59 वर्ष के शास्त्री रविवार को रैपिड एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाये गए थे । सोमवार को उनकी आरटी पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि हुई है । पांचवां और आखिरी टेस्ट 10 सितंबर से खेला जायेगा ।

बीसीसीआई के एक सूत्र ने बताया ,‘‘ दो रैपिड एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाये जाने के बाद शास्त्री आरटी पीसीआर टेस्ट में भी पॉजिटिव पाये गए हैं । उन्हें हल्के लक्षण हैं जैसे उनका गला खराब है ।वह दस दिन पृथकवास में रहेंगे ।’’

सूत्र ने कहा ,‘‘चूंकि अगला टेस्ट 10 सितंबर से शुरू हो रहा है तो शास्त्री टीम के साथ नहीं जायेंगे । उनका पृथकवास टेस्ट खत्म होने के बाद ही पूरा होगा ।’’

उनसे करीबी संपर्क में आने वाले सहयोगी स्टाफ के तीन सदस्य गेंदबाजी कोच भरत अरूण, क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर और फिजियो नितिन पटेल भी पृथकवास में हैं ।

पता चला है कि ये तीनों भी मैनचेस्टर नहीं जायेंगे लेकिन यह पहले ही से तय था ।

सूत्र ने कहा ,‘‘अरूण , श्रीधर और नितिन को करीबी संपर्क में रहने के कारण पांच दिन पृथकवास में रहना होगा । वैसे भी वे अंतिम टेस्ट के लिये मैनचेस्टर नहीं जा रहे थे । बीसीसीआई क्रिकेटरों के लिये अलग आईपीएल बबल बना रहा है और वे बबल से बबल में ही 15 सितंबर को प्रवेश करेंगे । यह पहले से तय था ।’’

तीनों कोच इस दौरान कप्तान विराट कोहली और बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर के संपर्क में रहेंगे जो उनकी गैर मौजूदगी में प्रभार संभालेंगे ।

सूत्र ने कहा ,‘‘ जहां तक फिजियो की बात है तो टीम के पास योगेश परमार के रूप में बैकअप है ।दो ट्रेनर निक और सोहम भी हैं । इनके अलावा तीन मालिशिये और एक थ्रोडाउन विशेषज्ञ है ।’’

टीम के सदस्य शनिवार की शाम और रविवार की सुबह कराये गए दो रैपिड एंटीजन टेस्ट में नेगेटिव पाये गए हैं । सहयोगी स्टाफ और सभी खिलाड़ियों को कोरोना के टीके की दोनों डोज लग चुकी है ।

ऐसी संभावना है कि शास्त्री टीम होटल में उनकी किताब के विमोचन के मौके पर संक्रमण के शिकार हो गए क्योंकि उसमें बाहरी मेहमान भी आये थे । पटेल, श्रीधर और अरूण भी उसमें मौजूद थे ।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: