संयुक्त राष्ट्र ने दक्षिण सूडान में शांतिरक्षक अभियान को बढ़ाया

संयुक्त राष्ट्र, दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षक अभियान को और बढ़ाने के वास्ते शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सर्वसम्मति से मतदान हुआ। दक्षिण सूडान में शांतिरक्षकों की संख्या 20,000 है।

परिषद द्वारा पारित किए गए प्रस्ताव में मिशन (यूएनएमआईएसएस) को ‘‘ समग्र एवं जिम्मेदार शासन का तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव का समर्थन’’ करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इसमें कहा गया है कि संघर्ष में शामिल सभी पक्ष और सशस्त्र समूह ‘‘ दक्षिण सूडान में लड़ाई को तत्काल बंद करें।’’

दरअसल 2011 के जब सूडान से अलग हो कर दक्षिण सूडान नया देश बना तब उम्मीद की जा रही थी कि उस क्षेत्र में शांति और स्थिरता आएगी लेकिन दुनिया का सबसे छोटा देश दिसंबर 2013 में ऐसे वक्त जातीय हिंसा की चपेट में आ गया जब राष्ट्रपति सेल्वा कीर की सहयोगी सेना ने पूर्व उपराष्ट्रपति रिक मचार के समर्थकों के साथ संघर्ष शुरू कर दिया।

इसके बाद शांति स्थापित करने की तमाम कोशिशें निष्फल साबित हुईं है। गृह युद्ध में कम से कम 400,000 लोग मारे गए हैं और लाखों की संख्या में विस्थापित हुए हैं।

सुयक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने बृहस्पतिवार को सुरक्षा परिषद की एक बैठक में कहा था कि दक्षिण सूडान में ‘‘लंबे वक्त से चली आ रही हिंसा और कोविड-19के आर्थिक प्रभाव ने 70 लाख और लोगों को भीषण खाद्य असुरक्षा की ओर धकेल दिया है।’’

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: