संसदीय लोकतंत्र में बड़ी ताकत है: जोशी

जयपुर, राजस्‍थान विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी ने बुधवार को कहा कि संसदीय लोकतंत्र में बड़ी ताकत होती है और इसके माध्यम से समस्याओं का निराकरण आसानी से कराया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि सदन ऐसा मंच है, जहां सत्‍ता पक्ष और विपक्ष के सदस्य अपनी भूमिका का प्रभावशाली ढंग से निर्वहन कर सकते हैं।

विधानसभा अध्यक्ष जोशी ने बुधवार को राजस्‍थान विधानसभा से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 81वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन में भाग लेते हुए ‘प्रभावी और सार्थक लोकतंत्र को बढ़ावा देने में विधायिका की भूमिका’ विषय पर संबोधित किया।

इस सम्‍मेलन का आयोजन लोकसभा द्वारा किया गया। जोशी ने कहा कि सदन में सत्ता पक्ष व विपक्ष को अपनी भूमिका का प्रभावशाली तरीके से निर्वहन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधिगण से क्षेत्र के मतदाताओं को अपेक्षा होती है कि उनके प्रतिनिधि क्षेत्र की समस्याओं को सदन में प्रभावशाली तरीके से रखें ताकि समस्याओं का निराकरण हो सके।

डॉ. जोशी ने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में समस्याओं को अलग-अलग तरीके से उठाया जा सकता है। जनप्रतिनिधि की यह जिम्मेदारी होती है कि वे क्षेत्र की समस्याओं की तरफ सरकार का ध्‍यान आकर्षित करें और समस्याओं का निदान भी कराने का प्रयास करें।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: