सरकारी उपक्रमों के विनिवेश प्रस्ताव को लागू करने में कोई दिक्कत आने की गुंजाइश नहीं लगती: राम माधव

कोलकाता, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता राम माधव ने रविवार को कहा कि उन्हें सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों के विनिवेश के बजटीय प्रस्तावों को लागू करने में कोई बाधा आने की गुंजाइश नहीं दिखती है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की अनुषंगियों की चिंताओं पर बातचीत चल रही है।

उन्होंने दावा किया कि भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) और स्वदेशी जागरण मंच (एसजेएम) जैसी अनुषंगियों के साथ पार्टी के विचार के अंतर को पाटा जा रहा है, क्योंकि इन संगठनों के बीच सतत वार्ता की एक व्यवस्था है।

माधव ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘राय में कोई बड़ा अंतर नहीं है … हमारे पास इन संगठनों के साथ विचारों के नियमित आदान-प्रदान की एक प्रणाली है। उन्हें विनिवेश से संबंधित कुछ मुद्दो पर आपत्तियां हैं। उन्हें कार्यान्वयन की प्रक्रिया से अवगत कराया जायेगा।’’

बजट में केंद्र द्वारा विनिवेश की घोषणा के बारे में पूछे जाने पर माधव ने कहा कि इसे लेकर कहीं कोई खास विरोध नहीं है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: