सरकार बनाने की अंतिम समय-सीमा से चूके नेतन्याहू, राजनीतिक भविष्य सवालों के घेरे में

यरूशलम, इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू नया शासी गठबंधन सामने रखने की मध्यरात्रि की अंतिम समय-सीमा से चूक गए हैं जिसके बाद यह संभावना बढ़ गई है कि उनकी लिकुड पार्टी 12 वर्षों में पहली बार विपक्ष में बैठने को मजबूर हो सकती है।

इजराइल के नाममात्र के राष्ट्रपति द्वारा नेतन्याहू को दी गई चार ह‍फ्ते की समय-सीमा समाप्त हो गई।

यह मामला अब वापस राष्ट्रपति रेवेन रिवलिन के पाले में आ गया है जिन्होंने मध्यरात्रि के तुरंत बाद घोषणा की कि वह संसदीय सीटें हासिल करने वाली 13 पार्टियों से बुधवार को संपर्क कर “सरकार गठन की प्रक्रिया को जारी रखने” पर चर्चा करेंगे।

रिवलिन आने वाले दिनों में नेतन्याहू के विरोधियों में से किसी एक को वैकल्पिक गठबंधन सरकार बनाने का मौका दे सकते हैं।

वह संसद से अपने सदस्यों में से किसी एक को प्रधानमंत्री के तौर पर चुनने को भी कह सकते हैं । अगर इनमें से कोई भी विकल्प काम में नहीं आता है तो देश में इस पतझड़ के मौसम में एक और चुनाव कराने की मजबूरी हो सकती है। ऐसा होता है तो यह महज दो वर्षों में पांचवी बार होगा।

इस संकट का यह मतलब नहीं है कि नेतन्याहू को तत्काल प्रधानमंत्री के पद से हटा दिया जाएगा। लेकिन उनके लंबे शासन के लिए अब गंभीर खतरा उत्पन्न हो गया है।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: