सीरिया में एक दशक से जारी युद्ध में साढ़े तीन लाख से अधिक लोग मारे गए: संयुक्त राष्ट्र

जिनेवा, संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बैश्लेट ने शुक्रवार को कहा कि उनके कार्यालय ने सीरिया में पिछले एक दशक से जारी गृहयुद्ध में आम नागरिकों और लड़ाकों सहित 3,50,209 लोगों के मारे जाने का दस्तावेजीकरण किया है। उन्होंने स्वीकार किया कि संघर्ष में मारे गए लोगों की असल संख्या कहीं अधिक है।

बैश्लेट ने कहा कि आंकड़े मार्च 2011 से मार्च 2021 तक की अवधि के हैं जो उस सूचना पर आधारित हैं जिसमें लोगों की पहचान उनके नाम और मृत्यु की तारीख तथा मौत के स्थान से की गई।

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त कार्यालय लंबे समय से सीरिया में मानवाधिकारों से संबंधित स्थिति की वास्तविक जानकारी मिलने में कठिनाइयां होने की बात कहता रहा है और इसने 2014 के शुरू में सीरिया में युद्ध की वजह से मरने वालों की संख्या को अद्यतन करना बंद कर दिया था। उस समय मृतकों की संख्या 1,91,369 थी।

विश्व निकाय के मानवाधिकार कार्यालय द्वारा उपलब्ध कराए गए नए आंकड़े सीरियन ऑब्जर्वेटरी ऑफ ह्यूमन राइट्स के अनुमान से काफी कम हैं जिसने सीरिया में मारे जाने वालों की संख्या जून में 6,06,000 बताई थी जिसमें 4,95,000 लोगों की मौत का दस्तावेजीकरण शामिल था।

वर्ष 2011 में अरब क्रांति भड़कने के बीच सीरिया में संघर्ष की शुरुआत हुई थी जिसकी वजह से लाखों लोग विस्थापित हुए हैं।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: