सेबी ने आईपीओ के लिए न्यूनतम मूल्य सीमा, एनआईआई के उप-वर्गीकरण का प्रस्ताव रखा

नयी दिल्ली, बाजार नियामक सेबी ने सोमवार को ‘बुक बिल्डिंग’ प्रक्रिया के जरिए सार्वजनिक निर्गमों के लिए पांच प्रतिशत की न्यूनतम मूल्य सीमा और गैर-संस्थागत निवेशकों के लिए उप-वर्गीकरण का प्रस्ताव रखा।

सेबी ने एक परामर्श पत्र में सार्वजनिक निर्गम के लिए कीमत का दायरा और बुक बिल्डिंग मसौदे की समीक्षा के लिए अपने प्रस्तावों पर टिप्पणियां आमंत्रित की हैं।

ये टिप्पणियां 20 अक्टूबर 2021 तक दी जा सकती हैं।

सेबी ने पाया कि निर्गम लाने वाली कंपनियों द्वारा तय कीमत का दायरा बेहद संकीर्ण है, जिसके बाद यह प्रस्ताव लाया गया।

इसी तरह, सेबी ने गैर संस्थागत निवेशकों (एनआईआई) के लिए एक उप-वर्गीकरण का प्रस्ताव रखा है, तभी सभी निवेशकों को समान अवसर मिल सकें।

पहली उप श्रेणी दो लाख से लेकर 10 लाख रुपये तक निवेश करने वाले एनआईआई की होगी। दूसरी श्रेणी 10 लाख से अधिक निवेश करने वाले एनआईआई के लिए होगी।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Getty Images

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: