हांगकांग पुलिस ने राजद्रोह के आरोप में मजदूर संघ के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया

हांगकांग, हांगकांग की पुलिस ने मजदूर संघ के पांच सदस्यों को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया और एक अदालत ने राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने के आरोप में गिरफ्तार चार संपादकों एवं पत्रकारों को जमानत देने से इनकार कर दिया।

स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक जिन पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है वह ‘जनरल एसोसिएशन ऑफ हांगकांग स्पीच थैरेपिस्ट्स’ के सदस्य हैं।

संगठन ने तीन बाल पुस्तकें प्रकाशित की हैं जिनके बारे में अधिकारियों को संदेह है कि वे राजनीतिक संकट के रूपक हैं। किताबों में ऐसी कहानियां हैं जो भेड़ के एक गांव के इर्द-गिर्द घूमती हैं जिन्हें एक अलग गांव के भेड़ियों से निपटना पड़ता है।

संघ की वेबसाइट पर प्रकाशित सारांश के अनुसार भेड़ें हड़ताल करने या नौका से बच निकलने जैसे कदम उठाती हैं।

पुलिस ने पुष्टि की है कि उन्होंने मजदूर संघ से दो पुरुषों और तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है लेकिन उनकी या उनके संघ की पहचान नहीं की है।

पुलिस ने कहा कि उन पर हांगकांग के लोगों में खासकर बच्चों में अधिकारियों एवं न्यायपालिका के प्रति घृणा, हिंसा और अन्य गैर-कानूनी कार्यों को उकसाने के इरादे से राजद्रोही प्रकाशनों को प्रकाशित करने, वितरित करने, प्रदर्शित करने या नकल करने की साजिश रचने का संदेह है।

पुलिस ने कहा कि उन्होंने संघ से जुड़ी 1,60,000 हांगकांग डॉलर की संपत्ति भी जब्त की।

बृहस्पतिवार को, हांगकांग की अदालत ने अब बंद हो चुके लोकतंत्र समर्थक अखबार एप्पल डेली से चार शीर्ष संपादकों और पत्रकारों को जमानत देने से इनकार कर दिया। उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए विदेशी ताकतों के साथ साजिश रचने के आरोप में बुधवार को गिरफ्तार किया गया था।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: