असम विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान जारी

गुवाहाटी, असम में विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 47 सीटों के लिए शनिवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया।

इस चरण में मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, कई मंत्रियों तथा विपक्षी नेताओं की राजनीतिक किस्मत का फैसला होगा।

अधिकारियों ने बताया कि पहले चरण में 23 महिलाओं सहित कुल 264 उम्मीदवार मैदान में हैं।

पहले चरण में सुरक्षा बलों की कुल 300 कंपनियों को तैनात किया गया है। इस चरण में मतदाता ब्रह्मपुत्र के उत्तरी तटीय और ऊपरी असम के 12 जिलों में 11,537 मतदान केंद्रों पर मतदान कर रहे हैं।

अधिकारियों ने बताया कि सभी संवेदनशील इलाकों में गश्त बढ़ा दी गई है और कड़ी चौकसी बरती जा रही है।

इन 47 सीटों में से अधिकतर सीटों पर सत्तारूढ़ भाजपा-अगप गठबंधन, कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्षी महागठबंधन और नवगठित असम जातीय परिषद (एजेपी) के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है।

कुल 81,09,815 मतदाता पहले चरण में मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। इनमें 40,77,210 पुरुष और 40,32,481 महिलाएं हैं, जबकि 124 ‘थर्ड जेंडर’ मतदाता हैं, इसके अलावा नौ एनआरआई मतदाता हैं।

मतदान शाम छह बजे तक जारी रहेगा।

मतदान शुरू होते ही कई मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी कतारें देखी गईं।

दिव्यांगजन के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं, जिनमें हर मतदान केंद्र पर व्हीलचेयर और उनके आवागमन के लिए ई-रिक्शा की व्यवस्था शामिल हैं।

इस चरण में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) 39 सीटों पर और उसकी सहयोगी पार्टी असम गण परिषद (अगप) 10 पर चुनाव लड़ रही है। दोनों सहयोगी दलों ने लखीमपुर और नहरकटिया निर्वाचन क्षेत्रों में अपने-अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

विपक्षी महागठबंधन सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहा है, जिसमें कांग्रेस ने 43 पर उम्मीदवार उतारे हैं, और एआईयूडीएफ, भाकपा (माले), राजद और आंचलिक गण मोर्चा एक-एक सीट पर चुनाव लड़ रही है।

नवगठित एजेपी 41 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, जबकि 78 निर्दलीय उम्मीदवार हैं, जिनमें नवगठित रायजोर दल के 19 उम्मीदवार शामिल हैं।

मुख्यमंत्री सोनोवाल माजुली (एसटी) से अपनी किस्मत आज़मा रहे हैं और निवर्तमान विधानसभा अध्यक्ष हितेंद्रनाथ गोस्वामी जोरहाट से चुनाव लड़ रहे हैं।

मंत्री रंजीत दत्ता बेहाली से, नबा कुमार डोली धकुआखा से, जोगन मोहन महमोरा से, तराश गोवाला दुलियाजान से और संजय किशन तिनसुकिया से चुनाव लड़ रहे हैं। इन सभी का कांग्रेस या उसके सहयोगी दलों और एजेपी के साथ त्रिकोणीय मुकाबला है।

एक अन्य हाई-प्रोफाइल सीट तीताबोर पर कांग्रेस के भास्कर ज्योति बरुआ और पूर्व विधायक हेमंत कलिता के बीच सीधी टक्कर है। इस सीट से कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई लगातार चार बार चुनाव जीते थे।

कांग्रेस विधायक दल के नेता देवव्रत सैकिया और राज्य कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा क्रमशः नाजिरा और गोहपुर से मैदान में हैं।

रायजोर दल के नेता अखिल गोगोई शिवसागर से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं, जो सीएए-विरोधी हिंसक प्रदर्शनों में अपनी कथित भूमिका के लिए जेल में हैं।

एजेपी के अध्यक्ष लुरिनज्योति गोगोई दुलियाजान और नहरकटिया से चुनाव लड़ रहे हैं।

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के बीच मतदान करने आए अधिकतर मतदाता मास्क पहने देखे गए। मतदान केंद्रों पर भी मास्क उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

असम की 126 सदस्यीय विधानसभा के लिए तीन चरणों में मतदान होने हैं। मतगणना दो मई को होगी।

क्रेडिट : पेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया
फोटो क्रेडिट : Wikimedia commons

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: